जागरण संवाददाता, कानपुर : लंबे समय से कयासों-संभावनाओं में झूल रही नई पार्टी को नाम और आकार भले ही न दिया हो लेकिन, शिवपाल यादव उसके लिए नींव जरूर तैयार कर चुके हैं। कानपुर से शुरू होकर 46 जिलों में फैल चुके 'शिवपाल यादव फैंस एसोसिएशन' को ब्लॉक और बूथ तक ले जाने की खुली घोषणा रविवार को उन्होंने की। इसी संगठन के जरिये 'बेईमानों' से लड़ने की हुंकार कई बार भरी और समाजवादी पार्टी का जिक्र तक नहीं किया।

रविवार को शास्त्रीनगर स्थित गेस्ट हाउस में शिवपाल यादव फैंस एसोसिएशन का सम्मेलन था। इस संगठन के कार्यकर्ताओं से मिलने के लिए शिवपाल यादव पहुंचे। सड़क से लेकर अंदर कार्यक्रम स्थल तक लाल टोपीधारी युवाओं की अच्छी-खासी भीड़ इशारा कर रही थी कि समाजवाद कुनबे में से ही पूर्व मंत्री ने अपनी अलग ब्रिगेड को मजबूती से खड़ा कर लिया है। माहौल देख गदगद हुए यादव ने कहा कि केंद्र सरकार ने अपने वादे पूरे नहीं किए। युवा रोजगार के लिए परेशान हैं। किसी वर्ग का सम्मान नहीं बचा है। उन्होंने कहा कि अब हम हमारी यह टीम तैयार है। इसी के माध्यम से हम बेईमान और भ्रष्टाचारियों से लड़ेंगे। भरोसा दिलाता हूं कि जीत हमारी ही होगी। कहा कि इस संगठन को अब ब्लॉक और बूथ स्तर तक खड़ा करना है। इस बीच उन्होंने एक बार भी सपा का नाम तक नहीं लिया। अब कयास लगाए जा रहे हैं कि यदि शिवपाल यादव नई पार्टी बनाते हैं, तो यही उनका निजी नेटवर्क पार्टी का आधार बनेगा।

कानपुर से एसोसिएशन के गठन की शुरुआत करने वाले प्रदेशाध्यक्ष आशीष चौबे ने बताया कि संगठन अब 46 जिलों में पहुंच चुका है। इसके लगभग एक लाख सदस्य हो चुके हैं। इसकी रिपोर्ट पूर्व मंत्री को दे दी गई है। वह लगातार कार्यक्रमों में भाग लेकर युवाओं से मुलाकात भी कर रहे हैं।

-- -- -- -- -- -- -- -- -- --

यह भी रहे मौजूद

एसोसिएशन के कार्यक्रम में राम सिंह यादव, ऐश मोहम्मद, रिजवान खान, पियूष चौहान, दीपू त्रिपाठी, आनंद शुक्ल, सुनील बाजपेयी, शिव मोहन सिंह, आरके विश्वकर्मा आदि थे।

Posted By: Jagran