इटावा, जेएनएन। सदर तहसील के चांदनपुर गांव में बुधवार को कोरोना वैक्सीन लगाने के लिए स्वास्थ्य टीम पहुंचने पर कई लोग घरों में ताला डालकर भाग गए। एक घर में बुजुर्ग महिला कुठला (अनाज रखने की जगह) के पीछे छिप गई। उनके पति बाहर खड़े रहे। ग्रामीणों को प्रोत्साहित करने आईं सदर विधायक सरिता भदौरिया ने जब बात की तो बड़ी मुश्किल में बाहर निकलीं, मगर वैक्सीन नहीं लगवाई। कहा कि वैक्सीन से बीमार हो जाएंगी। 

चांदनपुर गांव की आबादी करीब 500 है। यहां वैक्सीन लगवाने के लिए जागरूक करने पहुंची सदर विधायक सरिता व भाजपा नेता विकास भदौरिया ने बताया कि घर में छिपी मुन्नी देवी ने बाद में वैक्सीन लगवाने की बात कही है। उनके पति ने वैक्सीन लगवा ली। गांव में स्वास्थ्य विभाग की टीम के आने की खबर से कई लोग घरों में ताला बंद करके भाग गए। बाद में जब उन्हें वैक्सीन की जरूरत के बारे में समझाया गया तो तैयार हुए। कई ने वैक्सीन की डोज लगवा ली है। ग्रामीणों को समझाया जा रहा है कि वह अफवाहों से बचकर वैक्सीन जरूर लगवाएं। इस पर रजामंदी दिखाई है।  

कन्नौज में एसडीएम ने कटवा दी थी बिजली: उल्लेखनीय है कि बुधवार को कन्नौज जनपद के एक गांव में कोरोना वैक्सीन के प्रति लोगों को जागरूक करने के लिए टीम पहुंची थी, लेकिन ग्रामीणों ने इन्कार कर दिया था। इस पर एसडीएम ने गांव की बिजली कटवा दी थी और कोटेदारों को अनवैक्सीनेटेड लोगों को राशन न देने की बात कही थी। हालांकि गुरुवार को बिजली बहाल कर दी गई, लेकिन ग्रामीणों में वैक्सीन के प्रति किसी प्रकार कीर जागरुकता नहीं देखने को मिली। 

Edited By: Shaswat Gupta