कानपुर, जागरण संवाददाता। राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के सह सरकार्यवह डा. कृष्ण गोपाल ने कहा है कि भारत बदल रहा है और भारत का स्वाभिमान जाग रहा है, उसका परचम पूरे विश्व में दिख रहा है। राष्ट्रहित के जिन कार्यों को असंभव माना जाता था, वो सभी संभव होते दिखाई दे रहे हैं। उन्होंने यह विचार कानपुर प्रांत के 36 संगठनों के प्रमुख कार्यकर्ताओं की बैठक में प्रकट किए।

बैठक के प्रथम सत्र में सह सरकार्यवह डॉ कृष्ण गोपाल ने सभी संगठनों के कार्य के बारे में जानकारी कार्यकर्ताओं से ली। अमृत महोत्सव अभियान में आयोजन समिति के सहयोग के बारे में जानकारी की। उन्होंने कहा कि अमृत महोत्सव हमारे लिए केवल आजादी के 75 वर्ष मनाने का अवसर नहीं है बल्कि यह स्मरण करने का है कि आजादी का 75वां वर्ष हम सबको कैसे प्राप्त हुआ। देश में स्वतंत्रता ऐसे अनगिनत गुमनाम शहीदों के कारण प्राप्त हुई है, जिनका हम स्मरण ही नहीं कर पाए हैं।

प्रत्येक गांव, प्रत्येक जाति ने स्वतंत्रता संग्राम में अपनी आहुति दी है। यह अवसर है जब हम ऐसे बलिदानियों की श्रृंखला से भावी पीढ़ी को अवगत कराए। वे जाने कि स्वतंत्रता सामान्य नहीं है या स्वतंत्रता कैसे प्राप्त हुई है, इसके लिए कितने त्याग और बलिदान किए गए हैं। यह हम सबको मिलकर करना है।

उन्होंने कहा कि इस पावन यज्ञ में हमारी आहुति अवश्य होनी चाहिए, आने वाली पीढ़ी को देश और उसके गौरव, पूर्वज और श्रद्धा स्थल का स्मरण हमेशा रहे। यह स्मरण कराने का काम हम सभी को मिलकर करना है। बैठक में क्षेत्र संघ चालक वीरेंद्र जीत सिंह, प्रांत संघचालक ज्ञानेंद्र सचान, प्रांत प्रचारक श्रीराम, सह प्रांत प्रचारक रमेश, प्रांत प्रचार प्रमुख डॉ अनुपम, प्रांत कार्यवाह अनिल श्रीवास्तव, सह प्रांत कार्यवाह भवानी दीप उपस्थित रहे।

Edited By: Abhishek Agnihotri