जागरण संवाददाता, कानपुर : खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन विभाग की टीम ने फजलगंज स्थित एक आरओ प्लांट में छापेमारी कर पानी का नमूना लिया। साथ ही प्लांट को सीज कर दिया।

बिना लाइसेंस या पंजीकरण के चल रहे आरओ प्लांटों का संचालन बंद कराने के लिए खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन विभाग के अभिहित अधिकारी एसएसएच आबिदी ने टीमें गठित की हैं। मंगलवार को खाद्य सुरक्षा अधिकारी सुशील सचान और दिनेश चंद्र यादव ने मेसर्स ओलाई फजलगंज में छापा मारा गया। वहां पर जार में पानी सील करने का कार्य हो रहा था। यही वजह है कि प्लांट को सीज कर दिया गया। सोमवार को तीन प्लांटों में छापेमारी की गई थी। कारोबारियों पर खाद्य सुरक्षा एवं मानक अधिनियम के तहत फिलहाल बिना पंजीकरण या लाइसेंस के ही कारोबार करने के आरोप में मुकदमा होगा। साथ ही पानी में यदि मानक पर खरा नहीं उतरेगा तो फिर मुकदमा होगा। अधिनियम में बिना पंजीकरण या लाइसेंस के खाद्य पदार्थ की बिक्री और उत्पादन को अपराध की श्रेणी में रखा गया है। इस पर जुर्माना और सजा तक का प्रावधान है।

By Jagran