कानपुर (जेएनएन)। देश की जीवन दायिनी गंगा नदी को स्वच्छ तथा निर्मल बनाने में लगी केंद्र सरकार के साथ अब उत्तर प्रदेश सरकार भी सक्रिय है। कानपुर में गंगा नदी के सफाई का हाल जानने आज प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के साथ केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी तथा उमा भारती रहेंगे। यह सभी नमामि गंगे के कार्यों की समीक्षा करेंगे।

गंगा नदी को निर्मल बनाने की योजना नमामि गंगे के तहत हो रहे कामों की समीक्षा आज कानपुर में होगी। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, केंद्रीय जल संसाधन मंत्री नितिन गडकरी और गंगा सफाई मंत्री उमा भारती बैठक में गंगा से जुड़े कामों का पुरसा हाल जानेंगे।

इस समीक्षा में कानपुर, इलाहाबाद, वाराणसी, मुरादाबाद, और गाजियाबाद के अधिकारी भाग लेंगे। इस दौरान यहां नमामि गंगे प्रोजेक्ट से बने घाटों का लोकार्पण भी करेंगे और चल रहे विकास कार्यों का निरीक्षण भी। उनके साथ सूबे के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य, नगर विकास मंत्री सुरेश खन्ना और सांसद डॉ. मुरली मनोहर जोशी भी होंगे।

मुख्यमंत्री सुबह 10.20 बजे लखनऊ से रवाना होंगे। 10.50 बजे चंद्रशेखर आजाद कृषि एवं प्रौद्योगिकी विवि परिसर स्थित हेलीपैड पर पहुंचेंगे। यहां 11 से 12 बजे तक प्रस्तावित कार्यक्रम में नमामि गंगे परियोजना के तहत बनाए गए घाटों का लोकार्पण करेंगे।

गंगा स्वच्छता में सहभागिता के लिए नेशनल मिशन फॉर क्लीन गंगा के तहत गठित की गई सेना की गंगा टास्क फोर्स की लांचिंग की जाएगी। यहां जनसभा भी होगी, जिसमें पांच हजार लोगों के बैठने का इंतजाम किया गया है। 12.30 बजे सीएम व सभी मंत्री केडीए सभागार पहुंचेंगे। अपराह्न तीन बजे भैरो घाट चौराहे पर सीसामऊ नाले को टैप करने का कार्य देखेंगे। इसके बाद शाम 4.05 बजे सीएम चकेरी एयरपोर्ट से लखनऊ रवाना हो जाएंगे। 

By Dharmendra Pandey