- दैनिक जागरण में खबर प्रकाशित होने के बाद जागे नगर निगम के अफसर

जेएनएन, कानपुर : बैराज स्थित अटल घाट में हुए घटिया काम को दैनिक जागरण द्वारा बुधवार को प्रमुखता से प्रकाशित किए जाने के बाद नगर निगम का अमला जागा। अफसरों ने मौके पर पहुंच घाट में उखड़ रहे प्लास्टर को हटाकर ठीक कराने का काम शुरू कराया। वहीं कार्यदायी संस्था को नोटिस दिया जा रहा है।

नमामि गंगे के तहत 17 करोड़ से वर्ष 2018 में अटल घाट का निर्माण हुआ था। आठ मार्च 2019 को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अटल घाट का लोकार्पण किया था। तीन साल में ही अटल घाट में प्लास्टर उखड़ने लगा है। सीढि़यों के किनारे प्लास्टर तेजी से उखड़ रहा है। इसके अलावा कई जगह प्लास्टर चटक गया है। गंगा का जलस्तर बढ़ने से घाट की डूबी सीढि़यों के बाद घटिया कामों की पोल खुलना शुरू हो गई है। पत्थर उखड़ने का खतरा बढ़ गया है। दैनिक जागरण में खबर छपने के बाद नगर निगम के मुख्य अभियंता एसके सिंह और अधिशासी अभियंता आरके सिंह ने अटल घाट का निरीक्षण किया। मजदूर लगाकर उखड़ रहे प्लास्टर को हटाकर नए सिरे से प्लास्टर कराने के आदेश दिए। मुख्य अभियंता एसके सिंह ने बताया कि दिल्ली की इंजीनियर्स इंडिया लिमिटेड (ईआइएल) को नोटिस दी है। टूटे प्लास्टर को जल्द पूरा उखाड़ कर नए सिरे से ठीक कराया जाएगा। चार अरब से आठ सड़कें बनाएगा पीडब्ल्यूडी, कानपुर : पीडब्ल्यूडी दो माह बाद चार अरब रुपये से आठ सड़कों को चौड़ा करने के साथ ही उन्हें नए सिरे से बनाएगा। इसके लिए विभाग ने डीपीआर मुख्यालय भेज दी है। जल्द ही इसे स्वीकृति मिलने की उम्मीद है। बिठूर से खेरेश्वर जाने वाली सड़क को टू लेन बनना है। कन्नौज से बिठूर जाने वाले लोगों के लिए बिठूर-खेरेश्वर मार्ग बाईपास की तरह काम करेगा। शिवराजपुर से डेढ़ किमी पहले सरैयाघाट से खेरेश्वर मंदिर होते हुए वाहन बिठूर निकल जाएंगे। इससे पांच किमी का रास्ता कम होगा और जीटी रोड, शिवराजपुर, चौबेपुर में लगने वाले जाम में भी नहीं फंसना पड़ेगा। वहीं कानपुर देहात के रसूलाबाद से शुक्लागंज, उन्नाव, लखनऊ, रायबरेली समेत अन्य जिलों के लिए जाने वाले लोग जीटी रोड सरैया घाट से मुड़कर खेरेश्वर मंदिर वाली सड़क होते हुए बिठूर पहुंच जाएंगे। इस रास्ते का चौड़ीकरण होने से हजारों लोगों को फायदा होगा। इसी तरह फजलगंज से गोविदनगर जाने वाली सड़क जलनिगम की खोदाई की वजह से खराब हो चुकी है। इसमें रोजाना यातायात फंसता है। बारिश के बाद पीडब्ल्यूडी यह सड़क बनाएगा।

ये सड़कें बनाई जाएंगी

सड़क लंबाई चौड़ाई लागत

बिठूर से खेरेश्वर धाम जाने वाली सड़क 15 किमी टू लेन 35 करोड़

मंधना से मरहला चौराहे तक जाने वाली सड़क 17 किमी फोर लेन 136 करोड़

रमईपुर, कैंधा से भाऊपुर तक जाने वाली सड़क 23 किमी टू लेन 58.59 करोड़

मंधना से भाऊपुर स्टेशन जाने वाली सड़क 21 किमी टू लेन 65 करोड़

मूसानगर से गजनेर जाने वाली सड़क 16 किमी टू लेन 21 करोड़

चकेरी पाली से सवाइजपुर तक जाने वाली सड़क 10 किमी टू लेन 14 करोड़

जीटी रोड बालाजी मंदिर से ड्योढ़ी घाट तक सड़क 6.6 किमी पांच मीटर 15 करोड़

घाटमपुर मुख्यालय से साढ़ जाने वाली सड़क 14.7 किमी टू लेन 18 करोड़

----------

सड़कों का डीपीआर मुख्यालय भेज दिया गया है। उम्मीद है कि दो माह बाद सड़कों के निर्माण के लिए पहली किस्त जारी हो जाएगी।

केसी वर्मा, मुख्य अभियंता पीडब्ल्यूडी

Edited By: Jagran