बांदा, जागरण संवाददाता। रानी दुर्गावती मेडिकल कालेज के डाक्टर दंपती की लिखी किताब पाठकों की पसंद बन गई है। फेफड़ों से संबंधित बीमारियों को लेकर लिखी यह किताब बेस्ट सेलर के रूप में शामिल सौ किताबों में 49वें नंबर पर है। 

नरैनी रोड स्थित मेडिकल कालेज के चेस्ट रोग विभाग में तैनात सीनियर रेजीडेंट डा. दीपांजलि शर्मा ने फेफड़ों की बीमारियों की जानकारी व उपचार से संबंधित बुक आफ प्रैक्टिकल गाइड टू पल्मोनरी इंटरवेंशंस लिखी है। इसमें विभाग में तैनात उनके पति असिस्टेंट प्रोफेसर डा. मृत्युंजय शर्मा ने उनकी मदद की है। सात जनवरी को एक इंटरनेशनल वेबसाइट में उन्होंने अपनी किताब का प्रकाशन किया। बतौर डा. दंपती उनकी किताब अमेरिकी स्टोर में बेस्ट सेलर के रूप में टाप 100 की सूची में शामिल हुई है।

इसको लेकर मेडिकल कालेज में सभी ने खुशी जताई है। डा. दीपांजलि ने पाठकों का आभार व्यक्त किया है। उन्होंने बताया कि किताब के भारतीय संस्करण का लोकार्पण उनके कालेज के प्रधानाचार्य डा. मुकेश यादव के हाथों होना है। फेफड़ों की बीमारियों के उपचार में इस्तेमाल की जाने वाली आधुनिक तकनीक से संबंधित विषयों को किताब में शामिल किया गया है। यह किताब चिकित्सा जगत में महत्वपूर्ण योगदान करेगी। डाक्टर दंपती की यह तीसरी किताब है।  

Edited By: Abhishek Verma