कानपुर, जेएनएन। शहर में दावाओं और इंजेक्शन की कालाबाजारी और कफन चोरी जैसी घटनाओं पर प्रगतिशील समाजवादी पार्टी लोहिया के स्थानीय सदस्यों ने रोष जताया है। कोरोना कर्फ्यू लागू होने के बावजूद प्रसपा नेताओं ने शनिवार की दोपहर जीटी रोड पर कोविड गाइडलाइन का पालन करते हुए प्रदर्शन किया। प्रसपा महानगर अध्यक्ष आशीष चौबे ने आपदा के असुरों के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई की मांग की।

प्रसपा के नेताओं ने शनिवार की सुबह जीटी रोड पर कोविड नियमों का पालन करते हुए संकेतिक प्रदर्शन किया। इस दौरान महानगर अध्यक्ष आशीष चौबे ने कहा कि कोरोना काल में मानवता को शर्मसार करने वाले कफन चोरी जैसे प्रकरण में सरकार का मौन धारण करना दोषियों को संरक्षण देने की तरफ इशारा कर रहा है। श्मशान घाटों पर शव से उतरने वाले कफन, अंगोछा, शॉल, कलावा और बांस चुराकर दोबारा बाजार में बेच रहे हैं। वहीं लगातार दवाओं की कालाबाजारी हो रही है और ऑक्सीजन संकट बना हुआ है।

कहा, मानवता को शर्मसार करके मुनाफाखोर लूट मचाए हैं, इसमें भी प्रशासन की बड़ी लापरवाही उजागर होती है। सरकार व प्रशासन मूक दर्शक बनकर सिर्फ तमाशा देख रहा है। अगर इन कफन चोरों व दवाओं की कालाबाजारी करने वालों के खिलाफ कार्रवाई न हुई तो प्रसपा आम जनमानस के साथ सड़कों पर उतर आंदोलन करने को मजबूर होगी। सांकेतिक प्रदर्शन में हरि कुशवाहा, दीपू पांडे, ऋषि दुबे, प्रभात गहरवार, ज्ञानेंद्र यादव आदि भी मौजूद रहे।