कानपुर, जेएनएन। नौबस्ता के लव जिहाद के मामले में नाम बदलकर किशोरी को प्रेम जाल में फंसा शारीरिक शोषण के मामले में पुलिस ने आरोपित के खिलाफ रिपोर्ट दर्जकर उसे गिरफ्तार किया है। गोपाल नगर में मजदूर का परिवार किराए के मकान में रहता है। उनकी 15 वर्षीय बेटी कक्षा आठ की छात्रा है। मजदूर का आरोप है कि उनके पड़ोस में रहने वाला युवक परिवार को परेशान कर रहा था। पीडि़त ने बताया कि पड़ोसी युवक ने खुद को आर्यन मल्होत्रा बताकर परिवार से नजदीकियां बढ़ाई थीं। अक्सर उसका घर आना जाना होता था। इस बीच आर्यन ने उनकी बेटी से दोस्ती कर ली। इसकी भनक जब स्वजन को हुई तो बेटी को ननिहाल भेज दिया।

जबरन शादी का बना रहा था दबाव

युवक के बारे में छानबीन शुरू की तो उसका असली नाम बिजनौर निवासी फतेहखान होने का पता चला तो होश उड़ गए। स्वजन का आरोप है कि युवक परिवार पर बेटी को बुलाने और शादी कराने के लिए दबाव डाल रहा था। पीडि़त परिवार ने हिंदू परिषद और बजरंग दल के सदस्यों से मदद की गुहार लगाई थी। सोमवार रात संगठन के कार्यकर्ता पीडि़त परिवार को लेकर नौबस्ता थाने पहुंचे थे, जहां पुलिस ने छानबीन शुरू की। पुलिस ने किशोरी के चाचा की तहरीर पर घोखाधड़ी, दुष्कर्म, पाक्सो एक्ट की धाराओं में मुकदमा दर्ज कर आरोपित को गिरफ्तार किया है। आरोपित के पास से दो अलग अलग आधार कार्ड बरामद हुए हैं। पूछताछ में उसने बताया कि खुद ही मोबाइल से उसने अपना आधार कार्ड बनवाया और इंटरनेट कैफे से प्रिंट निकलवाया था। 

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस