इटावा, जागरण संवाददाता। आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे पर चालक को झपकी लगने डिवाइडर से मिनी बस टकरा गई। बस में सवार 16 यात्री घायल हो गए। गनीमत रही किसी यात्री को गंभीर चोट नहीं लगी। बस में श्रद्धालु अजमेर से कानपुर बिल्हौर में मकनपुर की दरगाह पर जा रहे थे। घायलों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। 

आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे पर अजमेर से मकनपुर दरगाह जा रही श्रद्धालुओं से भरी मिनी बस बुधवार की भोर करीब साढ़े तीन बजे किलोमीटर 122-450 पर डिवाइडर से टकरा गई। बस को शौकीन उर्फ सोनी निवासी अहिपुरा थाना गेगल अजमेर राजस्थान चला रहा था। चालक को नींद की झपकी लगने से बस हादसा होने की बात कही जा रही है। बस में सवार सभी यात्री नींद में थे और हादसे के बाद चीख पुकार मच गई। किसी यात्री को गंभीर चोट नहीं आई। घटना की सूचना मिलने पर 132 पर बनी पुलिस चौकी के कांस्टेबल बलराम सिंह एवं यूपीडा के कर्मचारी मौके पर पहुंच गए और सभी यात्रियों को बस से सुरक्षित निकाल लिया।मौके पर पहुची एंबुलेंस की टीम ने सभी घायलों का इलाज किया, बाद में सभी यात्रियों को किलोमीटर 154 सौरिख टोल पर भेज दिया गया। बस को भी क्रेन की मदद से सौरिख भेजा गया।

चालक को झपकी लगने से आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे पर दो दिन में यह दूसरी घटना है। एक दिन पहले ही किलोमीटर 134 पर बस पलटने से बीस यात्री घायल हुए थे। थानाध्यक्ष गंगादास गौतम ने बताया यात्रियों को मामूली रूप से चोटे आई थीं। सभी को मौके पर इलाज देकर रवाना कर दिया गया।

घायल बस यात्री : इरफान पुत्र समद उम्र 26 वर्ष, इमरान पुत्र अमीर उम्र 40 वर्ष, नगमा बानो पत्नी इमरान 30 वर्ष, गौसिया 8 वर्ष, मोहम्मद अरफान 10 वर्ष, आयशा पत्नी रफीक 40 वर्ष, मोहम्मद सादिक पुत्र मोहम्मद रफी 20 वर्ष, मुजाहिद पुत्र रफीक उम्र 19 वर्ष, खुर्शीद बानो पत्नी सैयद हाफिज 68 वर्ष, सायरा बानो पत्नी मूवीस 28 वर्ष, सुमैया बानो पत्नी सैयद यासीन 26 वर्ष, सैयद यासीन पुत्र सैयद हाफिज 28 वर्ष, नाजिया बानो पत्नी मोहम्मद रफीक 12 वर्ष, सैयद मुनव्वर पुत्र सैयद हाफिज 26 वर्ष, सूफिया पुत्री शहीद 7 वर्ष तथा महा बुब्बी पत्नी मोहब्बत रफी 78 वर्ष एवं नसीमा बानो पत्नी महबूब शहा सभी निवासी चित्रादुर्गा थाना कोटा स्टेशन जिला चित्रदुर्गा कर्नाटक।

Edited By: Abhishek Agnihotri