कानपुर, [विक्सन सिक्रोडिय़ा]। अभी तक बच्चों को ज्यादा बिस्किट और पास्ता खिलाने से हिचकते होंगे, क्योंकि आप मानते इसे ज्यादा खाने से स्वास्थ्य पर बुरा असर पड़ता है। इसे खाने से बच्चा कमजोर होता है लेकिन अब ऐसा नहीं होगा। आप अब उसे भर पेट बिस्किट और पास्ता खिला सकेंगे और बच्चे भी इसे खाकर हष्ट-पुष्ट बनेंगे। चंद्रशेखर आजाद कृषि एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय (सीएसए) में स्वास्थ्यवर्धक बिस्कट और पास्ता तैयार किया है, जिसे ब्रांड बनाकर बाजार में उतारने की तैयारी कर रहा है।

बच्चों में पोषक तत्वों की कमी को पूरा करेंगे

ये पास्ता-बिस्किट पोषक तत्वों की कमी पूरी कर बच्चों को हृष्ट-पुष्ट बनाएंगे। इसे बनाने वाले कृषि विश्वविद्यालय के प्रो. एचजी प्रकाश ने बताया कि इसे एक साल के शोध से तैयार किया गया है। भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद (आइसीएआर) की सेंटर फॉर एडवांस्ड एग्रीकल्चरल साइंस एंड टेक्नोलॉजी (कास्ट) योजना के तहत इन्हें बनाया गया है। इनमें प्रोटीन, विटामिन, मिनरल, जिंक और आयरन की समुचित मात्रा है।

लोबिया और सहजन से बनेंगे

भरपूर पोषक तत्व देकर सेहतमंद बनाने वाले लोबिया व सहजन अब पकाकर खाने वाली सब्जियां ही नहीं रह गए हैं। फास्ट फूड पसंद करने वाली उस पीढ़ी, जिसे दाल-सब्जी खिलाने में अभिभावकों को जंग सी लडऩी पड़ती है, उनके लिए कृषि विश्वविद्यालय ने सहजन और लोबिया से बिस्किट व पास्ता तैयार किया है। सीएसए के गृह विज्ञान महाविद्यालय के अंतर्गत आने वाले खाद्य विज्ञान एवं पोषण विभाग ने सहजन और लोबिया से बने बिस्किट, पास्ता, मुरक्को और चकली बाजार में उतारने के लिए पेटेंट की दिशा में कदम बढ़ा दिया है।

सब्जी खाने से दूर भागने वाले बच्चों को खूब फायदा

परियोजना की शोध सलाहकार व खाद्य विज्ञान एवं पोषण विभाग में सहायक प्रोफेसर डॉ. सीमा ने बताया कि लोबिया व सहजन प्रोटीन व आयरन युक्त दाल व सब्जी का बेहतर विकल्प है। पास्ता, मुरक्को, बिस्किट के रूप में बच्चों को स्वादिष्ट फास्ट फूड मिलेगा और पोषण भी।

ब्रांड बनाकर बाजार में उतारने की तैयारी

प्रो. प्रकाश व शोध सलाहकार डॉ. सीमा सोनकर के निर्देशन में स्नातकोत्तर की छात्राएं सलोनी ओमर ने लोबिया व पल्लवी तोमर ने सहजन पर शोध कर ये उत्पाद बनाए हैं। प्रयोगशाला में परीक्षण करने के बाद अब इसे और समृद्ध बनाया जा रहा है। इन उत्पादों को विश्वविद्यालय का ब्रांड बनाकर बाजार में उतारने का निर्णय लिया गया है। दोनों उत्पादों को पेटेंट कराने के लिए आवेदन प्रक्रिया शुरू कर दी गई है।

सहजन के बिस्किट में पोषक तत्व

0.30 मिग्रा : प्रोटीन

0.24 मिग्रा : आयरन

पास्ता के पोषक तत्व

0.046 मिग्रा : प्रोटीन

0.04 मिग्रा : आयरन

मुरक्को में प्रोटीन व आयरन

0.31 मिग्रा : प्रोटीन

0.41 मिग्रा : आयरन

लोबिया के पास्ता के गुण

0.392 मिग्रा : प्रोटीन

0.030 मिग्रा : आयरन

(प्रोटीन व आयरन की मात्रा सौ ग्राम के उत्पाद में)

Posted By: Abhishek

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस