कानपुर, जेएनएन। शहर में बड़ी संख्या में कोरोना के पाजिटिव केस निकलने के बाद मंडी समिति ने चकरपुर मंडी में प्रवेश के लिए जारी किए गए सभी पास निरस्त कर दिए हैं। मंडी सचिव ने साफ निर्देश दिए हैं कि जब तक पास बनने की नई व्यवस्था नहीं होगी, तब तक सभी कारोबारी अपने आधार कार्ड दिखाकर मंडी में प्रवेश करेंगे ताकि यह पहचाना जा सके कि वे किस क्षेत्र से आ रहे हैं। यह व्यवस्था इसलिए की गई है क्योंकि शहर में कुलीबाजार में बड़ी संख्या में पाजिटिव केस मिले हैं और उसी क्षेत्र में सब्जी के तमाम आढ़ती रहते हैं। इसके साथ ही अब सब्जी और फल दो अलग-अलग पालियों में बेचे जाएंगे ताकि मंडी में एक साथ भीड़ न जुटे।

चकरपुर मंडी में फल, आलू, प्याज और सब्जी की खरीद और बिक्री के लिए भारी संख्या में कारोबारी रोज ही आते हैं। मंडी ने लॉक डाउन के दौरान लोगों को सब्जी मिलती रहे, इसके लिए आढ़तियों को पास जारी किए थे। अब शहर के तमाम क्षेत्रों में पाजिटिव केस मिलने के बाद इन पास के जरिए उन क्षेत्रों से कोई आढ़ती मंडी न पहुंच जाए, इसकी आशंका को देखते हुए सभी पास निरस्त कर दिए गए हैं। मंडी के अंदर इन पास से किसी को प्रवेश नहीं मिलेगा।

मंडी सचिव सत्यपाल गंगवार के मुताबिक अब आधार कार्ड से मंडी में प्रवेश मिलेगा। अब नए पास सिटी मजिस्ट्रेट बनाएंगे। इसके अलावा अगर हॉट स्पाट एरिया का कोई कारोबारी आता है तो उसे मेडिकल फिटनेस के प्रमाणपत्र के साथ सिटी मजिस्ट्रेट का पास दिखाना होगा। मंडी में भीड़ कम हो, इसके लिए अब शाम को सात बजे से सुबह सात बजे तक सब्जी बिकेगी। इसके बाद सुबह सात बजे से शाम को पांच बजे तक आलू, प्याज और फल बेचे जा सकेंगे।

मंडी के गेट पर ही सभी का परीक्षण करने के लिए सोमवार को संयुक्त व्यापार मंडल के महामंत्री नीतू सिंह ने मंडी सचिव को थर्मल स्कैनिंग मशीन दी। उन्होंने मांग की कि बिना जांच के किसी को भी मंडी में न आने दिया जाए। साथ ही सभी को अनिवार्य रूप से मास्क लगाने के निर्देश हों, जो ऐसा न करे, उस पर कार्रवाई की जाए।

Posted By: Abhishek Agnihotri

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस