कानपुर, जेएनएन। Eid ul Fitr 2021:  रमजान के रोजे रखने वालों को वालों को ईद का तोहफा मिला तो उनके चेहरे खुशी से चमक उठे। ईद आते ही हर तरफ खुशियां छा गई। ईद की नमाज के बाद जहां एक दूसरे को मुबारकबाद देने का सिलसिला चलता रहा वहीं लाखों मुस्लिमों ने कोरोना व ब्लैक फंगस से सभी की हिफाजत की दुआ की। फिलिस्तीन के मुस्लिमों के लिए भी दुआ की गई। कोरोना कफ्र्यू में हुई ईद पर मस्जिदों से लेकर घरों तक में नमाज अदा की गई।

कोरोना कफ्र्यू में पड़ी ईद को लेकर शहरकाजियों ने निर्धारित संख्या में मस्जिदों व ईदगाहों में ईद की नमाज अदा करने की अपील की थी। लोगों से कहा गया था कि बेहतर है कि घरों में ही रहकर नमाज पढ़े और कोरोना से निजात की दुआ करें। ईद की तैयारियां रात से ही शुरु हो गई थी। मस्जिदों में अधिक लोग न पहुंचे इसको लेकर सुबह फजिर की नमाज के कुछ देर बाद कई मस्जिदों में ईद की नमाज अदा कराई गई हालांकि इस दौरान भी काफी लोग पहुंच गए। मस्जिदों के साथ घरों में भी कहीं ईद की तो कहीं चाश्त की नमाज अदा की गई। बरेलवी विचारधारा की ईदगाहों में भी नमाज अदा की गई। नमाज के बाद कोरोना के खात्मे, देश में अमन व खुशहाली, बीमारों को शिफा के साथ फिलिस्तीन के मुस्लिमों के लिए भी दुआ की गई। नमाज के बाद एक दूसरे को मुबारकबाद देने का सिलसिला चलता रहा। ईदगाह गद्दियाना में मौलाना हाशिम अशरफी ने पांच लोगों के साथ नमाज अदा की। उन्होंने लोगो से अपील की कि ईद पर गरीबों, बीमारों व जरूरतमंदों की मदद करें।

बंद रहें बड़ी ईदगाह के गेट, तैनात रहा फोर्स : ईद पर बड़ी ईदगाह के गेट बंद रहे। यहां पुलिस के साथ आरएएफ भी तैनात रही। बड़ी ईदगाह की प्रबंधन समिति ने पहले ही ईद पर नमाज न होने की घोषणा कर दी थी। नमाज पढऩे के लिए लोग पहुंच न जाएं, इस आशंका के चलते ईदगाह के गेट बंद कर दिए गए। ईदगाह के बाहर पुलिस के साथ आरएएफ भी तैनात रही। वहीं अन्य ईदगाहों में नमाज हुई। बड़ी ईदगाह बेनाझाबर में हर वर्ष ईद की नमाज पढऩे के लिए लाखों लोग पहुंचते थे। कोरोना की वजह से पिछले दो वर्षो से यह सिलसिला थमा हुआ है।

दूर रहकर भी एक दूसरे के साथ रहें : इंटरनेट मीडिया से ईद की मुबारकबाद ईद पर अधिकांश लोग अपने-अपने घरों पर ही रहे। इंटरनेट मीडिया के माध्यम से एक दूसरे को ईद की मुबारकबाद दी गई। कोरोना कफ्र्यू में दूसरे शहरों में रह रहे स्वजनों से वीडियो कांफ्रेंसिंग से बात की गई। ईद की मुबारकबाद देने के साथ उनके स्वास्थ्य की जानकारी ली गई। फेसबुक लाइव, वाट्स ऐप व अन्य इंटरनेट मीडिया प्लेटफार्म के माध्यम से लोग दूर रहकर भी एक दूसरे के साथ जुडे रहे।

महिलाओं ने भी पढ़ी नमाज : अहले हदीस विचारधारा के मुस्लिमों में मर्दों के साथ महिलाओं ने भी ईद की नमाज अदा की। मर्दों ने नमाज की इमामत की जबकि महिलाएं पीछे की सफ (लाइन) में रही। अहले हदीस विचारधारा की मानने वाली शहर में तीन ईदगाहे हैं। दो ईदगाहों में महिलाएं भी नमाज अदा करती हैं, इस वर्ष घरों में ही नमाज हुई। वहीं देवबंदी विचारधारा के मानने वाले मुस्लिमों के कई घरों में भी मर्दों के पीछे महिलाओं ने भी नमाज अदा की।

फतेहपुर में कोरोना के खात्मे की पढ़ी दुआ : शुक्रवार को ईदगाह में प्रात : इमाम अली मुजाहिदुल इस्लाम ने ईद-उल-फितर की नमाज अदा कराते हुए मुल्क में अमन-शांति कायम रखने की दुआएं मांगी। तकरीर में उन्होंने विश्व में फैली में कोरोना संक्रमण की महामारी को जड़ से खत्म करने की दुआएं अल्लाह-ताला से मांग। ईदगाह परिसर में शासन की गाइड लाइन के तहत सामाजिक दूरी के हिसाब से अकीदतमंदों ने ईद की नमाज अदा की। वहीं घरों में महिला, पुरुष व बच्चों ने ईद की नमाज अदा की। इसके बाद एक दूसरे को ईद की मुबारकवाद दी। ईदगाह समेत शहर के आबूनगर, चौधराना, ज्वालागंज, घोसियाना,मसवानी, जैदून, पीरनपुर, अस्ती, बकंधा, अंदौली, सनगांव समेत ग्रामीण इलाकों में स्थित मस्जिदों में पांच-पांच नमाजियों ने ईद की नमाज अदा की। इसी तरह बिंदकी, खागा, जहानाबाद, ऐंराया, मोहम्मदपुर गौती, हथगाम, हसवा, ललौली, जिगनी, आलमपुर, जहानाबाद आदि क्षेत्रों में नमाजियों ने घरों में नमाज अदा की। सुरक्षा की दृष्टि से पुलिस व प्रशासनिक अफसर पल-पल जायजा लेते रहे। अपर पुलिस अधीक्षक राजेश कुमार का कहना था कि शासन की गाइड लाइन के तहत शांतिपूर्ण ढंग से ईद की नमाज संपन्न करा दी गई। सुरक्षा की दृष्टि से मस्जिदों के आस पास पुलिस की चाक चौबंद व्यवस्था की गई थी। 

 

औरैया में  कोविड प्रोटोकॉल का पालन कर ईद की नमाज :  ईद मुबारक का सिलसिला चांद का दीदार होते ही शुरू हो गया था। शुक्रवार की सुबह मुस्लिम समुदाय के लोगों ने घरों व स्थानीय मस्जिदों, ईदगाह में कोविड-19 की गाइडलाइन का पालन कर नमाज अदा की। उन्होंने खुदा से कोरोना के खात्मे सहित परिवार व देशभर में खुशहाली की दुआ मांगी। पुर्वा रावत स्थित ईदगाह में इमाम के साथ मस्जिदों में नमाज अदा करने वालों की संख्या सीमित रही। नमाज अदा करने के बाद उन्होंने शारीरिक दूरी का पालन करते हुए एक-दूसरे को ईद की बधाई दी। ईद के मौके पर जिलेभर में पुलिस-प्रशासन भी अलर्ट मोड पर नजर आया।

Edited By: Akash Dwivedi