कानपुर, जेएनएन। घाटमपुर के जहानाबाद रोड रेलवे क्रासिंग के पास मंगलवार की भोर पहर लोग निकले तो युवक का रक्त रंजित शव पड़ा देखकर सनसनी फैल गई। युवक की गला घोंटकर हत्या के बाद चेहरा कुचल दिया गया था। मौके पर पहुंची पुलिस ने शव कब्जे में लेकर छानबीन की। लोगों ने कहीं और से युवक को लाने के बाद यहां पर हत्या किये जाने की आशंका जताई। 
घाटमपुर में जहानाबाद रोड क्रासिंग व स्टेशन के मध्य रेलवे की कालोनियों का निर्माण कराया जा रहा है। मंगलवार की सुबह लोग जब घरों से निकले तो संपर्क मार्ग के किनारे गड्ढे में भरे पानी के समीप युवक का रक्त रंजित शव पड़ा देखा। उसकी गर्दन में निशान देख गला घोंटकर हत्या के बाद किसी पत्थर से चेहरे को कुचले जाने की पुष्टि हुई। खून बहते देख लोग भोर पहर ही हत्या कर शव फेंके जाने की आशंका जता रहे थे। सूचना पर कस्बा चौकी प्रभारी संतोष यादव पुलिस बल के साथ पहुंचे और निर्माणाधीन रेलवे कॉलोनी के मजदूरों को बुलाकर शिनाख्त काप्रयास किया। उसकी पहचान क्षेत्र के गांव बौहार निवासी राम चन्द्र गुप्ता के छोटे बेटे प्रदीप चंद्र उर्फ दीपू के रूप में हुई। वह नौबस्ता के खाड़ेपुर में रह कर निजी मोबाइल कंपनी में काम करता था।
बाएं हाथ की कलाई में गुदा डीजी
पुलिस के अनुसार मृतक की उम्र करीब 30 वर्ष होगी। उसके शरीर पर नीले रंग की जींस, चेकदार शर्ट व पर्पल कलर की हूडी व सफेद रंग के स्पोर्ट शूज मिले हैं। उसके बाएं हाथ की कलाई में अंग्रेजी में डीजी गुदा हुआ है। चौकी प्रभारी ने बताया कि कहीं और हत्या के बाद शव रेलवे कॉलोनी के समीप फेंकने की आशंका है। परिजनों की तहरीर के आधार पर कार्रवाई की जाएगी। परिजनों ने बताया कि सोमवार शाम दीपू  बजे बाइक द्वारा शहर जाने को निकला था।

Posted By: Abhishek

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप