जागरण संवाददाता, कानपुर : कूड़ा उठान में लापरवाही बरतने वाली कंपनी से नगर निगम ने 13 कंपैक्टर छीन लिए हैं। साथ ही दिसंबर से कंपनी से अनुबंध खत्म करने की तैयारी की जा रही है। दैनिक जागरण ने पिछले दिनों कंपनी द्वारा सफाई में बरती जा रही लापरवाही का खुलासा किया था। इसके बाद नगर निगम की नींद खुली। नगर आयुक्त के आदेश पर नगर स्वास्थ्य अधिकारी ने कंपनी का अनुबंध खत्म करने का नोटिस दिया है।

कूड़ाघर हटाने के लिए नगर निगम ने कंपैक्टर खरीदे हैं। इसमें सीधे कूड़ा डालकर भाऊसिंह पनकी स्थित कूड़ा निस्तारण प्लांट तक भेजा जाता है। इसके लिए गाजियाबाद की कंपनी रोजा मटेरियल कंपनी को 18 कंपैक्टर के संचालन की जिम्मेदारी दी गई थी। हर माह कंपनी को 12 लाख रुपये का भुगतान किया जा रहा है। कंपनी द्वारा कंपैक्टर का संचालन ठीक से नहीं किए जाने के चलते नगर निगम का कूड़ाघर हटाने का सपना अधूरा रह गया। इस मामले को दैनिक जागरण ने पिछले दिनों उठाया था। जहां पर कंपैक्टर लगाए गए थे वहां पर पहले से ज्यादा कूड़ा एकत्र होने लगा। इस मामले में नगर स्वास्थ्य अधिकारी डा अजय संखवार ने कंपनी को अनुबंध खत्म करने का नोटिस दिया है। नगर निगम ने कंपनी से 18 में से 13 कंपैक्टर छीन लिए हैं और अब खुद उनका संचालन कर रही है। एक दिसंबर से सभी कंपैक्टर का संचालन नगर निगम की टीम करेगी।

---------

यहां का संचालन नगर निगम कर रही है

एलआइसी फूलबाग, काली घाट ग्रीनपार्क, भैरोघाट वीआइपी रोड, बीएस पार्क बेनाझाबर, बजरिया, आयुर्वेदिक अड्डा, ला कालेज, सिधी कालोनी, शास्त्रीनगर, देवकी नगर, तेल मिल, मछरिया

---------

चार जगह और बनेंगे भूमिगत कूड़ाघर

सिविल लाइंस की तर्ज पर नगर निगम चार जगह और भूमिगत कूड़ाघर बनाने जा रहा है।जमीन के अंदर कूड़ा रखने की व्यवस्था की जा गई है। इससे सड़क पर कूड़ा नहीं फैलेगा। लाजपत नगर, स्वरूप नगर, समेत चार जगह भूमिगत कूड़ाघर बनाने की तैयारी की जा रही है। इसके लिए सर्वे किया जा रहा है।

Edited By: Jagran