फतेहपुर, जेएनएन। ललौली  थाना क्षेत्र के जबरदस्तखेड़ा गांव में छात्रा के देर रात तक मोबाइल में बात करने पर मां ने डांट दिया। इससे क्षुब्ध होकर छात्रा ने परिजनों के सो जाने पर साड़ी से फंदा बनाकर फांसी लगा ली। भोर पहर नींद खुलने पर परिजनों को जानकारी हुई। परिजन पुलिस को बताए बगैर शव का अंतिम संस्कार करने जा रहे थे लेकिन ग्रामीणों की सूचना पर पीआरवी टीम ने उन्हें शव का पोस्टमार्टम कराने के लिए रास्ते में रोक लिया।      जबरदस्तखेड़ा गांव निवासी लल्लू यादव की 17 वर्षीय पुत्री शिवांगी डा. शंकरनाथ इंटर कालेज थवई में कक्षा 11 की छात्रा थी। बताते हैं कि वह गुरुवार को देर रात तक किसी सहेली से बात कर रही थी। इस पर मां ने उसे जमकर डांटा फटकारा तो वह क्षुब्ध हो गई। उसके बाद मां मंजू देवी अपने बेटों सत्यम, शिवम के साथ कमरे में सोने चली गर्इं और पिता भी घर के बरामदे में चारपाई डालकर सो गए। वहीं शिवानी ने कमरे के छल्ले में साड़ी से गले में फंदा डालकर फांसी लगा ली। थानाध्यक्ष केशव वर्मा ने बताया कि परिजन शव का पोस्टमार्टम नहीं कराना चाह रहे थे, इसलिए शव लेकर अंतिम संस्कार करने जा रहे थे। ग्रामीणों से सूचना मिलने पर शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने का इंतजार किया जा रहा है, उसी के आधार पर कार्रवाई की जाएगी। 

Posted By: Abhishek

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस