कन्नौज, जेएनएन। जिला जेल में सोमवार की सुबह उस समय अफरा तफरी मच गई, जब विचाराधीन बंदी का शव इज्जतघर में फांसी के फंदे पर लटका मिला। शव जमीन से मात्र दो फीट ऊपर लटकने और आसपास कोई स्टूल आदि न मिलने से बंदी की मौत पर संदेह की स्थिति बन गई। तीन घंटे बाद जेल प्रशासन द्वारा सूचना दिए जाने को लेकर परिजनों में भी रोष है। एसडीएम और फोरेंसिक टीम ने जेल परिसर में पहुंचकर जांच शुरू की है।

अनौगी स्थित जिला जेल में सदर कोतवाली क्षेत्र के गांव अमरोली निवासी 33 वर्षीय देवेंद्र कश्यप पुत्र लालमन कश्यप निरुद्ध था। अप्रैल माह में पांच वर्षीय बच्ची का शव तालाब में मिला था। इस मामले में बच्ची से दुष्कर्म के बाद हत्या के मामले में पुलिस ने उसे गिरफ्तार करके जेल भेजा था। सोमवार की सुबह करीब 10 बजे जेल के इज्जतघर में टोंटी के सहारे गमछे के फंदे से देवेंद्र का शव लटका मिलने से सनसनी फैल गई। बंदियों से जानकारी के बाद रक्षकों ने जेल प्रशासन को सूचना दी।

जेल अफसरों ने मौके पर पहुंचकर छानबीन की और करीब तीन घंटे बाद परिजनों को सूचना भिजवाई। इज्जतघर में टोंटी की जमीन से ऊंचाई करीब दो फीट है, ऐसे में परिजन हत्या कर शव लटकाए जाने की आशंका जता रहे हैं। हालांकि जेल प्रशासन अभी कुछ भी कहने को तैयार नहीं है। एसडीएम सदर शैलेश कुमार , सीओ सिटी श्रीकांत प्रजापति ने जेल पहुंचकर अन्य बंदियों से पूछताछ की, वहीं फोरेंसिक टीम ने भी साक्ष्य एकत्र किए।  

Posted By: Abhishek

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस