कानपुर, जागरण संवाददाता: सपा विधायक इरफान सोलंकी और उनके भाई रिजवान सोलंकी आत्मसमर्पण के दौरान काफी भावुक दिखे। इस दौरान उनका पूरा परिवार मौजूद रहा। इस बीच विधायक अपने परिवार के गले मिलकर खूब रोये और कहा कि वह बेगुनाह हैं।

सुबह करीब सवा ग्यारह बजे विधायक इरफान सोलंकी और रिजवान सोलंकी सफेद रंग की फार्च्यूनर कार से पुलिस आयुक्त के आवास पर पहुंचे। यहां करीब पचास समर्थकों के साथ परिवार के सदस्य और दोनों सपा विधायक मोहम्मद हसन रूमी और अमिताभ बाजपेयी मौजूद थे।

मीडिया ने विधायक से बातचीत करने की कोशिश की तो वह भाउक होकर रोने लगे, लेकिन बोले कुछ भी नहीं। इसके बाद उनकी कार सीधे पुलिस आयुक्त आवास में कार्यालय के बाहर जाकर रुकी। कार से उतरते ही पत्नी नसीम सोलंकी, मां खुर्शिदा बेगम, बहन रुबी ने गले लगा लिया। यहां भी विधायक खुद हो रोक नहीं सके। इसके बाद पुलिस आयुक्त के कार्यालय के अंदर विधायक अपनी बेटियों से मिले।

पुलिस आयुक्त कार्यालय के अंदर का एक वीडियो वायरल हुआ, जिसमें इरफान की छोटे बेटियां जारा और जाबियां रोती दिखी तो अमिताभ बाजपेयी ने उन्हें चुप कराया। वीडियो में पूरी परिवार कमरे के अंदर रोता हुआ दिखाई दिया। इस दौरान इरफान व रिजवान के अलावा उनके अन्य चारों भाई, बहनोई, चाचा मेराज सोलंकी के अलावा रिजवान सोलंकी की पत्नी, बेटी व बेटा भी वहां मौजूद थे।

पुलिस आयुक्त से हाथ मिलाया और कर दिया आत्मसमर्पण

सपा विधायक इरफान सोलंकी ने पुलिस आयुक्त बीपी जोगदण्ड के सामने आत्मसमर्पण किया। जिस समय वह कार्यालय पहुंचे उस वक्त पुलिस कमिश्नर कैंप कार्यालय पर नहीं थे। करीब दो मिनट बात पुलिस आयुक्त कार्यालय में दाखिल हुए। उन्हें देखकर इरफान ने उनसे हाथ मिलाया। प्रचलित हुए वीडियो में इरफान पुलिस आयुक्त से कुछ कहते नजर आ रहे हैं। इसके चंद मिनट बाद पुलिस पुलिस आयुक्त कार्यालय में दाखिल हुई और विधायक व और उनके भाई को अपनी अभिरक्षा में लेकर पुलिस लाइन के लिए रवाना हो गई।

इरफान ने फेसबुक पर लाइव होकर किया आत्मसमर्पण

सपा विधायक इरफान सोलंकी ने पुलिस आयुक्त के सामने आत्मसमर्पण को बेहद योजनाबद्ध तरीके से अंजाम दिया। अनहोनी की आशंका थी या राजनैतिक लाभ लेने की कोशिश सपा विधायक की फेसबुक आइडी से पूरे घटनाक्रम का लाइव प्रदर्शन किया गया। पुलिस आयुक्त आवास के अंदर उनकी कार घुसने से लेकर पुलिस अभिरक्षा में पुलिस लाइन ले जाने तक का पूरा वीडियो सपा विधायक की फेसबुक आइडी पर अपलोड हुआ। हालांकि यह पता नहीं चल सका कि फेसबुक पर लाइव घटनाक्रम की रिकार्डिंग पुलिस आयुक्त कार्यालय के अंदर से किसने की।

Edited By: MOHAMMAD AQIB KHAN

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट