कानपुर, जागरण संवाददाता। Mishap in kanpur चमनगंज क्षेत्र में शुक्रवार को जर्जर मकान से गिरी ईंट से एक महिला घायल हो गई। घटना छोटी सी थी, मगर इसकी गूंज काफी दूर तक सुनाई पड़ी, क्योंकि मामला दो अलग-अलग संप्रदायों से जुड़ा था। हालांकि पुलिस ने मौके की नजाकत को समझाते हुए दोनों पक्षों को बुलाकर विवाद बढऩे नहीं दिया। देर रात पुलिस ने इस प्रकरण में नामजद मुकदमा दर्ज कर लिया। 

चमनगंज क्षेत्र के श्रीनगर में एक पुराना और जर्जर मकान है। प्रभारी निरीक्षक चमनगंज बलराम मिश्रा ने बताया कि इस मकान को मोहम्मद वसीम ने संजीव नरूला, राजीव नरूला, मोहम्मद अनीस व नफीस से खरीदा था। इस मकान में वर्तमान में पांच छह किराएदार रहते हें। इंस्पेक्टर के मुताबिक गुरुवार को वसीम पक्ष ने आकर मकान का कुछ हिस्सा तोड़ा था। शुक्रवार को यहां रहने वाली 70 वर्षीय पुष्पा देवी आंगन में बैठी हुई थी। उसी दौरान उस हिस्सा का छज्जा ढह गया, जिसे गुरुवार को तोड़ा गया था। छज्जे की कुछ ईंटे पुष्पा देवी के ऊपर आकर गिरीं, जिससे उन्हें चोट पहुंची। आनन फानन स्वजन उन्हें लेकर अस्पताल पहुंचे। उधर इस मामले को लेकर शासन सत्ता तक शोर सुनाई पड़ा। भाजपा नेता पूर्व डीजीपी बृजलाल ने भी पुलिस आयुक्त को फोन करके घटना के बारे में जानकारी ली। इंस्पेक्टर चमनगंज के मुताबिक देर रात पुष्पा देवी की ओर से तहरीर आई है, जिसके आधार पर वसीम आदि के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया गया है। 

Edited By: Abhishek Agnihotri