कानपुर, जेएनएन।  बड़ा चौराहे पर ट्रैफिक बूथ के बगल में रविवार रात कोहना के शातिर बदमाश व उसके साथियों ने शिवाला बाजार के दो व्यापारियों को गोली मार दी। छर्रे लगने से दो राहगीर भी जख्मी हो गए और चौराहे पर अफरातफरी मच गई। उर्सला अस्पताल में प्राथमिक उपचार के बाद व्यापारियों को एलएलआर अस्पताल (हैलट) में भर्ती कराया गया, जबकि राहगीर घर चले गए। एसपी पूर्वी ने बदमाशों की गिरफ्तारी के लिए दो टीमें लगाई हैं। 

पहले 17 फरवरी को हुआ था विवाद

शिवाला में कैलाश मंदिर के पास रहने वाले केस्को के रिटायर्ड कर्मचारी राकेश द्विवेदी के छोटे बेटे शुभम द्विवेदी उर्फ छोटू पंडित का कैरम क्लब व भांग का ठेका है। वहीं शुभम के दोस्त लक्की तिवारी शिवाला की चूड़ी मार्केट में कॉस्मेटिक व आर्टिफिशियल ज्वैलरी शॉप चलाते हैं। शुभम के भाई सौरभ ने बताया कि 17 फरवरी को लक्की के ग्वालटोली निवासी कर्मचारी शिवम गुप्ता की रायपुरवा में शादी थी। दोनों दोस्त शादी में गए थे, जहां शिवम के अपराधी दोस्त नीरज करिया व उसके साथियों से विवाद हो गया था। तब लोगों ने बीचबचाव कराया। रविवार शाम शिवम ने गंगा बैराज पर पार्टी रखी थी। शुभम और लकी को भी बुलाया। दोनों वहां गए और विवाद होने पर लौट आए। 

समझौते के लिए दोनों को था बुलाया

रात करीब साढ़े आठ बजे शिवम ने फोन कर समझौता कराने के लिए शुभम व लकी को बड़ा चौराहे पर बुलाया। शुभम के मुताबिक वह लकी व अपने दो दोस्तों को लेकर चौराहे पर शिवाला बाजार के कोने में खड़े हो गए। इसी बीच शिवम के साथ नीरज करिया अपने दोस्त राहुल चौहान व चार अन्य के साथ बाइकों से आया और गालीगलौज करने लगा। विरोध पर नीरज व राहुल ने तमंचे से दो फायर किए। गोली शुभम के चेहरे पर आंख के पास और लकी के पेट में लगी। गोली के छर्रे दो राहगीरों को भी लगे। इसके बाद अफरातफरी मच गई। जब तक पुलिस पहुंची, हमलावर फरार हो गए। 

सामने पुलिस चौकी, फिर भी वारदात

रविवार होने के कारण बड़ा चौराहे पर जेड स्क्वायर व आसपास भीड़ थी। सामने सरसैया घाट पुलिस चौकी बनी है। पास ही दो एसपी के आवास और कोतवाली भी है। फिर भी बदमाश दुस्साहिक वारदात को अंजाम देकर आसानी से बाइक पर बैठकर फरार हो गए और पुलिस कुछ नहीं कर सकी।

 घटना से कुछ देर पहले तक हुई थी चेकिंग 

घटना से कुछ देर पहले तक एसपी पूर्वी के आदेश पर चौराहे पर वाहन चेकिंग भी कराई जा रही थी। जब हमला हुआ, ट्रैफिक बूथ या आसपास कोई पुलिसकर्मी नहीं था। केवल दो होमगार्ड थे, जिनकी बदमाशों को रोकने या पकडऩे की हिम्मत नहीं हुई। घटना के 10 मिनट बाद पुलिस पहुंची।

इनका ये है कहना

गोली लगने से शुभम और लक्की घायल हुए हैं, उनकी हालत स्थिर है। हमलावरों की तलाश में दो टीमें लगाई गई हैं। जल्द ही उन्हें गिरफ्तार कर लिया जाएगा। 

-राजकुमार अग्रवाल, एसपी पूर्वी

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस