जागरण संवाददाता, कानपुर : सरसौल सीएचसी में तैनात सुपरवाइजर पर महिला कर्मचारी से अभद्रता एवं मारपीट का आरोप लगा कर महिला कर्मचारियों ने जमकर हंगामा किया है। सुपरवाइजर के खिलाफ महराजपुर थाने में तहरीर भी दी गई है। महिलाओं का आरोप है कि सीएचसी प्रभारी की शह मिलने से वह बेलगाम हो गया है। अक्सर वह महिला कर्मियों के साथ अभद्रता करता है।

सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र (सीएचसी) सरसौल में तैनात सुपरवाइजर फूल चंद्र साहू पर महिला ने अभद्रता एवं मारपीट करने का आरोप लगाया है। महिला से मारपीट करते सुपरवाइजर को जब उसके पति ने रोकने का प्रयास किया तो वह और भड़क गया। उसने महिला के पति के साथ भी अपमानजनक भाषा का प्रयोग किया। दु‌र्व्यवहार से आहत महिला कर्मचारी रोने लगी। महिला का कहना है कि उसने सीएचसी प्रभारी डॉ. एसएल वर्मा से शिकायत की, लेकिन उन्होंने भी कोई ध्यान न देते हुए उसकी शिकायत को अनसुना कर दिया। तब उसने महिला कर्मचारी महासंघ की जिला अध्यक्ष राजेंद्री यादव से मुलाकात कर पूरा मामला बताया। शुक्रवार को जब महिला कर्मचारी महासंघ की अध्यक्ष राजेंद्री व उनके साथ अन्य पदाधिकारी सीएचसी पहुंची तो फूल चंद्र साहू उनसे भी अभद्रता करने लगा। इस पर उन्होंने डायल 100 पर सूचना देकर पुलिस बुला ली। साथ ही महिला ने महराजपुर थाने में सुपरवाइजर के खिलाफ तहरीर दी है।

-- -- -- -- -- -- -- --

दो हजार रुपये की वसूली

कर्मचारी नेता राजेंद्री का आरोप है कि सीएचसी में प्रत्येक महिला कर्मचारी से दो-दो हजार रुपये वसूली की जाती है। जो कर्मचारी विरोध करता है उसके साथ अभद्रता एवं मारपीट की जाती है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस