फतेहपुर, जेएनएन। ललौली थाने के मुस्तौर मार्ग स्थित कोर्राकनक गांव में करीब दस फीट गहरे सूखे नाले में एक 17 वर्षीय किशोरी का शव फेंक दिया गया। ग्रामीणों की सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को बरामद किया है। प्रत्यक्षदर्शियों में चर्चा रही कि किशोरी का शव दुष्कर्म किए जाने के बाद ही फेंका गया है। मौके पर पहुंची फाेरेंसिक टीम ने साक्ष्य संकलित किए। बताया गया कि किशोरी की शिनाख्त अभी नहीं हो सकी है।

यह है पूरा मामला: बबूल के पेड़ की झाड़ियों के पास से कोर्राकनक गांव में स्थित नाले में अपराह्न ग्रामीणों ने देखा कि एक किशोरी का शव पड़ा है जिसके शरीर में हल्के नीले रंग की जींस व हल्के रंगे का टाप था। खबर पाकर एसओ संदीप तिवारी व शाह चौकी इंचार्ज अमित सिंह मय फोर्स मौके पर पहुंचे। पुलिस के समक्ष ग्रामीणों ने आशंका जताई कि गला घोंटकर हत्या की गई है या फिर जहर खिलाया गया है। फिलहाल पुलिस ने शव को मर्च्युरी में रखवा दिया है। जिसका पोस्टमार्टम 48 घंटे बाद कराया जाएगा।

इनका ये है कहना: एसओ संदीप तिवारी का कहना था कि दिवंगत की उम्र 17 या फिर 18 वर्ष से अधिक हो सकती है। दिवंगत का चेहरा नीला पड़ा था जिससे अनुमान है कि जहर खाने से मौत हुई है या फिर गला दबाकर हत्या करने के बाद शव यहां फेंका गया है। शव आस-पड़ोस के किसी घर का नहीं है क्योंकि क्षेत्रीय ग्रामीणों ने शव की शिनाख्त से इन्कार कर दिया।

बांदा, कौशांबी, कानपुर से किया संपर्क: दिवंगत किशोरी की शिनाख्त के लिए पुलिस ने डीसीआरबी विभाग के जरिए पड़ोसी जिले बांदा, कौशांबी, कानपुर देहात, उन्नाव, रायबरेली आदि जगहों पर फोटो भेजी जा रही है और इन जिलों की पुलिस से संपर्क किया गया है ताकि अतिशीघ्र ही दिवंगत की शिनाख्त की जा सके।

Edited By: Shaswat Gupta