कानपुर, जेएनएन। मुख्यमंत्री को रिसीव करने जा रहीं शहर की प्रथम नागरिक महापौर प्रमिला पांडेय की गाड़ी आइआइटी एयरस्ट्रिप तक जाने से सुरक्षाकर्मियों ने रोक दी, जबकि दारोगा तक की गाड़ी भीतर जा रही थी। महापौर तो उतरकर पैदल चल दीं, लेकिन पीछे से गाड़ी पर आए औद्योगिक विकास मंत्री सतीश महाना को यह बेहद नागवार गुजरा। उन्होंने डीएम-एसएसपी को बुलाकर कड़ी नाराजगी जताई और इसे प्रोटोकाल का उल्लंघन बताया।

करीब 1.20 बजे जब मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का हेलीकॉप्टर आइआइटी की एयरस्ट्रिप पर उतरना था, उस वक्त उनके स्वागत को प्रशासनिक अफसरों से लेकर भाजपा पदाधिकारी, जनप्रतिनिधि पहुंचे हुए थे। जब महापौर प्रमिला पांडेय की गाड़ी पहुंची तो सुरक्षाकर्मियों ने उन्हें रोक दिया। मुख्यमंत्री आने वाले थे सो महापौर बिना कुछ कहे हुए पैदल ही अंदर जाने लगीं। पीछे से आ रहे कैबिनेट मंत्री सतीश महाना ने यह देख अपनी गाड़ी रुकवाई और अफसरों को खरी-खरी सुना दी।

सांसद देवेंद्र सिंह भोले ने भी नाराजगी जताई। मंत्री ने कहा कि लगता है अधिकारी जानबूझकर जनप्रतिनिधियों को अपमानित कर रहे हैं। यह कई बार देखने में आया है। प्रशासन ने क्यों कोई कार्ययोजना नहीं बनाई और निचले कर्मचारियों को बताया कि किस किस की गाड़ी अंदर जानी है। जिलाधिकारी विजय विश्वास पंत ने गलती स्वीकार की तब मामला शांत हुआ। इस दौरान भाजपा के नेता, मंत्रीगण व विधायक आदि भी मौजूद थे।

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप