कानपुर, जागरण संवाददाता। एमएसएमई (लघु, शूक्ष्म एवं मध्यम उद्योग) मंत्री राकेश सचान और उनके वकील व समर्थकों पर दोष सिद्ध होने के बाद आदेश की पत्रावली लेकर फरार होने के आरोपों के मामले में पुलिस ने गुरुवार को चार गवाहों के बयान दर्ज किए।

इस तरह से अब तक आठ गवाहों के बयान दर्ज किए जा चुके हैं। वहीं दूसरी ओर अदालत से जुड़े गवाहों के बयान दर्ज कराने के लिए पुलिस ने जिला जज से अनुमति मांगी है। 

उक्त प्रकरण में पुलिस आयुक्त ने एसीपी कोतवाली अशोक कुमार को जांच सौंपी है। उन्होंने 14 लोगों को चिन्हित किया है, जिनसे इन प्रकरण में पूछताछ की जानी है। पूछताछ के लिए 63 सवालों की एक प्रश्नावली बनाई है। पिछले 11 दिनों में चार के बयान दर्ज हुए थे, जबकि गुरुवार को चार अन्य के बयान दर्ज हुए।

हालांकि इनमें केवल  वादकारी, अधिवक्ता और पुलिसकर्मी शामिल हैं। एक अधिकारी के मुताबिक इस मामले में अदालत से जुड़े चार से पांच लोगों के बयान होने हैं। उनसे बयानों के लिए जिला जज से अनुमति मांगी गई है। वहींं दूसरी ओर पुलिस ने अदालत को पत्र लिखकर सीसीटीवी फुटेज मांगे थे।

पुलिस का दावा है कि अब तक सीसीटीवी फुटेज उन्हें नहीं मिले हैं। जब इस संबंध में पुलिस आयुक्त बीपी जोगदण्ड से बात की गई तो उन्होंने बताया कि जांच अधिकारी को दो दिनों में जांच पूरी करके अदालत को रिपोर्ट से अवगत कराने का आदेश दिया है।

Edited By: Abhishek Verma