कानपुर, जेएनएन। तेलंगाना की मेघा इंजीनियरिंग एंड इंफ्रास्ट्रक्चर लिमिटेड से जुड़ा रहा सैयद मोहम्मद मोईन दिल्ली में कांग्रेस मुख्यालय में भी बैठा करता था। मेघा इंजीनियरिंग के देशभर में स्थित दर्जनभर दफ्तरों के साथ मोईन के आवास पर छापेमारी के दूसरे दिन आयकर विभाग की टीम के आगे उसने यह कबूलनामा किया है। आयकर सूत्रों के मुताबिक तेलंगाना की कंपनी की रकम को मोईन आगे बढ़ाने की धुरी था। रकम उसके खाते में आती थी और वह तमाम लोगों तक उसे पहुंचाता था। आयकर टीम यह जानने की कोशिश कर रही है कि उसने किन लोगों तक धन पहुंचाया है। रकम के खर्च का कांग्रेस मुख्यालय से भी कोई ताल्लुक है क्या, इसे भी देखा जा रहा है। 

मेघा इंजीनियरिंग एंड इंफ्रास्ट्रक्चर लिमिटेड पर शुक्रवार को छापेमारी के साथ चमनगंज में रहने वाले सैयद मोहम्मद मोईन के आवास पर भी आयकर विभाग ने पड़ताल शुरू की थी। आयकर टीम के मुताबिक देश में सबसे बड़ा लिफ्ट इरीगेशन प्रोजेक्ट पर काम कर रही मेघा इंजीनियरिंग से मोईन के खातों में रकम आती थी। इसे वह आगे कुछ लोगों तक पहुंचाता था। यह रकम कितने लोगों तक पहुंचाई गई, इसकी जानकारी की जा रही है।

टीम के मुताबिक मोईन ने कहा है कि वह कांग्र्रेस मुख्यालय में बैठता था। टीम ने उसके घर से तमाम कागजात भी जब्त किए हैैं। आयकर सूत्रों के मुताबिक स्थानीय स्तर पर जांच पूरी हो चुकी है लेकिन, कंपनी के हैदराबाद, दिल्ली, मुंबई समेत देश में कई स्थानों पर छापे अब भी चल रहे हैं। उनसे मिल रही सूचनाओं की कडिय़ां जोडऩे के लिए टीम अभी मोईन के घर पर डेरा डाले हुए है।

Posted By: Abhishek

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप