कन्नौज, जेएनएन। आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे पर हादसों का सिलसिला थम नहीं रहा है। शुक्रवार देर रात तेज रफ्तार कार डिवाइडर से टकराकर आगे चल रहे ट्रक में घुस गई। हादसे में कार चला रहे पीडब्लूडी जेई के भांजे की मौत हो गई। वह अकेले ही कार से मामा से मिलने कन्नौज आ रहा था। माना जा रहा है कि कार चलाते समय नींद की झपकी आने से हादसा हुआ है। यूपीडा कर्मचारियों ने परिजनों को हादसे की सूचना दी है।

हरिद्वार के थाना रुड़की के मोहल्ला शक्ति विहार कॉलोनी निवासी प्रमोद कुमार का बेटा अंकित घर से अर्टिका कार से कन्नौज के लिए चला था। शुक्रवार देर रात आगरा लखनऊ एक्सप्रेस वे पर चैनल 149 के पास कार डिवाइडर से टकराकर आगे चल रहे ट्रक में घुस गई। हादसे में उसकी मौके पर ही मौत हो गई। सूचना मिलते ही मौके पर पहुंचे यूपीडा कर्मचारियों ने कार से किसी तरह उसे बाहर निकाला और एंबुलेंस स्टॉफ ने परीक्षण किया तो उसकी मौत हो चुकी थी। उसकी पहचान करने के बाद परिजनों को सूचना दी और शव को सीएचसी की मच्र्युरी में रखवा दिया।

यूपी कर्मियों ने बताया कि कार में अंकित अकेला था और खुद ही कार चला रहे थे। नींद की झपकी आ जाने से हादसे होने की आशंका जताई जा रही है। परिजनों ने फोन पर बताया है कि अंकित के मामा अरुण कुमार कन्नौज में पीडब्ल्यूडी विभाग में जेई के पद पर तैनात हैं। कई दिनों से अंकित उनके साथ ही रह रहे थे। शुक्रवार को अंकित मामा से मिलने कन्नौज आ रहे थे। थाना अध्यक्ष राज कुमार सिंह ने बताया परिजनों से वार्ता हो गई है, वह कन्नौज पहुंच रहे हैं।

Posted By: Abhishek

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस