कानपुर, जेएनएन। कानपुर समेत आसपास के जनपदों में रोजाना कोरोना संक्रमण के मामलों में इजाफा होता जा रहा है। कानुपर नगर में रविवार को चार और पॉजिटिव केस मिलने के बाद संक्रमितों की संख्या 521 पहुंच गई है, वहीं उन्नाव में रविवार की सुबह बीएसएफ जवान समेत दो तथा जालौन में सात और मरीज कोरोना संक्रमित मिले हैं। कानपुर में मिले चार पॉजिटिव केस में अहिरवां और रतनपुर की पेट्रोलिंग टीम के सिपाही, बिल्हौर का युवक और फजलगंज के रेलवे के इलेक्ट्रिक ट्रेनिंग सेंटर में क्वारंटाइन युवक है।

वहीं उन्नाव के मौरावां थाना क्षेत्र के गांव मोहगवां के रहने वाले बीएसएफ जवान दिल्ली से कानपुर आए थे, जहां ट्रेन से उतरने के बाद स्क्रीनिंग होने पर जांच कराने की सलाह दी गई थी। इसपर कानपुर के एलएलआर अस्पताल में सैंपल देने के बाद वह उन्नाव आ गए थे। दूसरे संक्रमित मिले प्रवासी युवक  औरास के गांव गागन का रहने वाला है और दो दिन पहले उसका सैंपल लिया गया था। उन्नाव सीएमओ डॉ. आशुतोष कुमार ने बताया कि डॉक्टरों की टीम गांव भेजी है। जालौन में भी कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़ती जा रही है। रविवार को आठ नए मरीज मिलने के बाद संख्या 58 हो गई हैं। इनमें तीन की मौत हो चुकी है, वहीं 41 स्वस्थ हो चुके हैं और अब एक्टिव केस 12 हैं।

होमगार्ड की मौत, डॉक्टर समेत 19 पॉजिटिव

कानपुर नगर में कोरोना संक्रमण तेजी से फैल रहा है, शनिवार को कोरोना से 15वीं मौत हो गई, वहीं उर्सला अस्पताल के कंट्रोल रूम के डॉक्टर समेत 16 पॉजिटिव केस सामने आए हैं। इनमें ककवन थाने का सिपाही समेत तीन, तिलक नगर के नर्सिंग होम की दो, शक्कर मिल खलवा के दो, सर्वोदय नगर, एलनगंज, बर्रा-2 वाई ब्लॉक, फीलखाना, लक्ष्मीपुरवा, पटेल नगर, कर्रही के एक-एक व्यक्ति है। वहीं शिवराजपुर, घाटमपुर व भीतरगांव के तीन प्रवासी, और फतेहपुर की महिला संक्रमित मिली हैं। जिले में अबतक मिले कोरोना पॉजिटिव 517 हो गए हैं, इसमें से 15 की मौत और 316 स्वस्थ हो चुके हैं। अब 186 एक्टिव केस हैं।

ग्वालटोली निवासी होमगार्ड दो वर्ष से बीमार थे। उन्हें गुर्दे एवं सांस की बीमारी थी, जिस वजह से वह ड्यूटी भी नहीं जा रहे थे। गुरुवार रात जब उन्हें सांस लेने में दिक्कत हुई तो स्वजन हैलट इमरजेंसी लेकर आए। उनका सैंपल जांच के लिए भेजने के बाद डॉक्टरों ने रिपोर्ट आने तक होल्डिंग एरिया में शिफ्ट कर दिया, जहां शुक्रवार देर रात इलाज के दौरान उनकी मौत हो गई। जांच रिपोर्ट न आने पर उनका शव मर्च्युरी में रखवाया गया। शनिवार सुबह जांच रिपोर्ट में कोरोना पॉजिटिव आने पर आनन-फानन हैलट के होल्डिंग एरिया का सैनिटाइजेशन कराया गया। उर्सला अस्पताल स्थित स्वास्थ्य विभाग के कंट्रोल रूम में तैनात 42 वर्षीय डॉक्टर में कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई है। ककवन थाने का 32 वर्षीय सिपाही, 55 वर्षीय कर्मचारी व ककवन के 65 वर्षीय बुजुर्ग, शक्कर मिल खलवा की 50 वर्षीय महिला व 40 वर्षीय युवक, सर्वोदय नगर के 55 वर्षीय व्यक्ति, एलनगंज की 57 वर्षीय महिला, तिलक नगर स्थित आभा नर्सिंग होम की 30 वर्षीय व 62 वर्षीय महिला व बर्रा वाई ब्लॉक के 61 वर्षीय बुजुर्ग पॉजिटिव आए हैं।

शिवराजपुर के डोड़वा जमौली गांव का 24 वर्षीय युवक, घाटमपुर के उमरी गांव की दिल्ली से आई 23 वर्षीय प्रवासी कामगार व भीतरगांव के मादा गांव का 20 वर्षीय युवक तथा फतेहपुर की 35 वर्षीय महिला भी संक्रमित आई है। वहीं निजी लैब में फीलखाना के 19 वर्षीय युवक, नगर निगम का संविदाकर्मी, पटेल नगर का युवक व कर्रही का व्यक्ति है, जिसका सीसामऊ में प्रोविजनल स्टोर है। सीएमओ डॉ. अशोक शुक्ला ने बताया कि 19 में कोरोना की पुष्टि हुई है, इसमें ग्वालटोली निवासी व्यक्ति की मौत के बाद पॉजिटिव रिपोर्ट आई है। उनका दाह संस्कार कोरोना प्रोटोकॉल के तहत कराया गया है।

Posted By: Abhishek Agnihotri

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस