कानपुर, जेएनएन। बर्रा में सीयूजीएल की पीएनजी लाइन के चेंबर में शुक्रवार को आग लग गई। आग की लपटों से पास में लगे पेड़ जलने लगे। स्थानीय लोगों ने आग की लपटों को देखकर कंट्रोल रूम को सूचना दी। दो दमकल गाडिय़ां फजलगंज फायर स्टेशन से घटनास्थल पहुंची। एक घंटे तक लगातार पानी की बौछार करके आग पर काबू पाया गया। इस दौरान सड़क के दोनों ओर बैरीकेडिंग लगाकर रास्ता रोका गया। सीयूजीएल की मेंटीनेंस टीम भी मौके पर पहुंची और आग बुझने के बाद चेंबर में हो रहे गैस रिसाव को रोक कर मरम्मत का काम शुरू किया गया।

इस दौरान रतनलाल नगर व आसपास के क्षेत्र के एक हजार घरों की गैस आपूर्ति प्रभावित रही। बर्रा-दो में पटेल चौक के पास रहने वाले वेदानंद त्रिपाठी के घर के बाहर रतनलाल नगर को जा रही सीयूजीएल की पीएनजी लाइन का वाल्व चेंबर बना है। शुक्रवार की सुबह किसी ने उसमें कूड़ा डालकर आग लगा दी। जिससे लाइन में लगा सेफ्टी वाल्व डैमेज हो गया। वाल्व डैमेज होने पर लाइन से गैस का रिसाव शुरू हो गया तो आग लपटें और भड़क गई। चेंबर से आग निकलती देख लोगों ने रास्ता बंद कराया। जिससे शास्त्री चौक से पटेल चौक को आने जाने वाला ट्रैफिक सड़क के एक ही लेन पर चलने लगा। दमकल की दो गाडिय़ों ने एक घंटे की मशक्कत के बाद आग बुझाई। जिसके बाद विवेकानंद स्कूल के पास लगे दूसरे वाल्व को बंद करके गैस रिसाव रोका गया। आग बुझने के बाद एक घंटे तक टीम को गैस बैक होने का इंतजार करना पड़ा।
गैस बैक होने के बाद टीम ने मरम्मत का काम शुरू किया। सीयूजीएल के चीफ मैनेजर कार्मशियल मंसूर अली ने बताया कि किसी ने चेंबर में कूड़ा डालने के बाद उसे जलाया है। जिससे वाल्व डैमेज हुआ है। मेंटीनेंस की टीम ने मरम्मत का काम शुरू किया है। शाम 4 बजे तक आपूर्ति बहाल होने की उम्मीद है। उन्होंने बताया कि वाल्व डैमेज होने से रतनलाल नगर व आसपास के के घरों की आपूर्ति प्रभावित है। 

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Abhishek

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप