कानपुर, जेएनएन। बर्रा में मंगलवार की सुबह घर के छज्जे पर अधिवक्ता लहूलुहान हालत में पड़े मिले तो सनसनी फैल गई। उनके हाथ और पेट में चाकू के वार देखकर स्वजनों ने पुलिस को सूचना दी और निजी अस्पताल में भर्ती कराया है। उनकी हालत गंभीर है, वहीं घटनाक्रम को देखते हुए मौके पर पहुंची पुलिस ने फॉरेंसिक टीम बुलाकर जांच कराई है।

हेमंत विहार निवासी कुलदीप सिंह अधिवक्ता है। स्वजनों ने बताया कि सोमवार रात को खाना खाने के बाद सभी सोने चले गए। मंगलवार सुबह करीब 5 बजे बड़ी बहन अर्चना उठी तो छज्जे पर अधिवक्ता भाई को लहूलुहान हालत में पड़ा देखा। इसपर चीख पड़ी तो परिवार के अन्य सदस्य भी पहुंच गए। फर्श पर खून बह रहा था और उनके हाथ-पेट में चाकू से वार किए गए थे। उनकी हालत देखकर परिवार में चीख-पुकार मच गई। आनन-फानन में स्वजन उन्हें एलएलआर अस्पताल (हैलट) ले गए, जहां हालत नाजुक होने पर निजी अस्पताल में भर्ती कराया। स्वजनों ने पुलिस को सूचना दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने फॉरेंसिक टीम बुलाकर साक्ष्य एकत्रित किए। पुलिस को मौके से एक चाकू भी मिला है। थाना प्रभारी रणजीत राय ने बताया कि प्रारंभिक जांच में मामला आत्महत्या के प्रयास का लग रहा है। स्वजनों ने किसी से रंजिश से इनकार किया है। अधिवक्ता के होश में आने के बाद ही मामला स्पष्ट होगा।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस