कानपुर देहात, जागरण संवाददाता। जनपद में एक मैसेज फेसबुक पर तेजी से वायरल हो रहा है, इसमें सिकंदरा विधानसभा क्षेत्र से विधायक एवं इलेक्ट्रानिक व प्रौद्योगिकी राज्यमंत्री अजीत पाल का बसपा में शामिल होने की बात कही गई है। यूपी विधानसभा चुनाव के दरमियान ऐसा मैसेज वायरल होने से चुनावी सरगर्मियां अचानक तेजी पकड़ने लगीं क्योंकि उनके पिता भी पहले कांग्रेस और बसपा में सक्रिय रह चुके थे। ऐसे में लोगों के बीच उनके घर वापसी की चर्चा तेज हो गई। वायरल मैसेज का संज्ञान लेकर मंत्री ने सभी अटकलों पर विराम लगाया है और सिकंदरा थाने में दुष्प्रचार करने वाले अज्ञात व्यक्ति के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया है।

सिकंदरा के भाजपा विधायक अजीत पाल प्रदेश सरकार में इलेक्ट्रानिक एवं प्रौद्योगिकी राज्यमंत्री है। कुछ लोगों ने फेसबुक पर उनका समर्थकों के साथ बसपा में शामिल होने का झूठा पोस्ट वायरल कर दिया। फेसबुक पर वायरल पोस्ट समर्थकों ने यह देखा तो मंत्री को जानकारी दी। इस बीच राजनीतिक गलियारों में अफवाहों का बाजार गर्म हो गया और राजनीतिक हलचल बढ़ गई। चर्चाओं में आने लगा कि उनके पिता भी पहले कांग्रेस और बसपा में रह चुके हैं।

फेसबुक पर वायरल पोस्ट जब मंत्री ने देखी तो एसपी को कार्रवाई के लिए सूचना दी। मंत्री ने एसपी को भेजे पत्र में लिखा कि वह भाजपा के निष्ठावान व पुराने कार्यकर्ता हैं। उनकी राजनीतिक छवि को नुकसान पहुंचाने के उद्देश्य से कोई दुष्प्रचार कर रहा है। मामले में अज्ञात के खिलाफ सिकंदरा थाने में झूठी सूचना व आइटी एक्ट की धारा में मुकदमा दर्ज किया गया है। एसपी स्वप्निल ममगाई ने बताया कि मुकदमा दर्ज किया गया है। पुलिस फेसबुक पर मैसेज वायरल करने वाले की तलाश कर रही है।

पहले भी वायरल हुए मैसेज : इससे पहले अकबरपुर रनियां से भाजपा विधायक प्रतिभा शुक्ला का भी सपा में शामिल होने का गलत मैसेज वायरल हो चुका है। उन्होंने अपनी सफाई में वीडियो संदेश जारी किया था और ऐसा करने वालों पर मानहानि का मुकदमा दर्ज करने की बात कही थी। ऐसे गलत मैसेज वायरल होने से जनप्रतिनिधि परेशान हैं।

Edited By: Abhishek Agnihotri