कानपुर(जेएनएन)।  अनजान युवक से नजदीकियों की जानकारी और युवती की जिद पर परिवार के लोगों ने उसकी गोली मारकर हत्या कर दी। हालांकि पिता ने बहर से विवाद के बाद उससे भूलवश गोली चलने से मौत होने की बात कही है। सुबह ग्रामीणों से घटना की जानकारी मिलने के बाद पुलिस मौके पर पहुंची और छानबीन की। पुलिस ने पिता-पुत्री समेत तीन लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू की है।
उन्नाव जनपद के फतेहपुर चौरासी थाना क्षेत्र के शकूराबाद गाव निवासी दिलीप शर्मा की 18 वर्षीय पुत्री श्रद्धा उर्फ बिट्टू तीन बहनों में सबसे बड़ी थी। ग्रामीणों की मानें तो उसकी गाव के ही एक युवक से नजदीकी थी, जिसका परिजन विरोध करते थे। इसके बाद भी वह अपनी जिद पर अड़ी थी। गुरुवार रात अचानक घर पर गोली चलने की आवाज आई। इससे ग्रामीण डर के मारे सहम गए, उन्होंने समझा कि बदमाशों ने धावा बोल दिया है। हालांकि कुछ देर बाद पता चला कि श्रद्धा की पीठ में गोली लगने से मौत हो गई है।
इसके बाद भी परिजनों द्वारा सुबह तक पुलिस को सूचना नहीं दी गई। सुगबुगाहट होने पर बात पुलिस तक पहुंच गई तो फोर्स गांव पहुंचा। पुलिस शव कब्जे में लेकर चौकीदार भोला की तहरीर पर अज्ञात में मुकदमा दर्ज कर पिता पुत्री समेत 3 को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है। एसओ नारदमुनि ने बताया कि मामला ऑनर किलिंग से जुड़ा लग रहा है, जाच की जा रही है। वहीं पुलिस हिरासत में पिता ने छोटी बेटी द्वारा भूल से तमंचा से गोली चलने की बात कही है।

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप