कानपुर, जेएनएन। अगले दो तीन दिन में मौसम का मिजाज बदलने के आसार हैं। हवा सामान्य से काफी तेज चल सकती है और हल्के बादल छा सकते हैं, जबकि बूंदाबांदी की संभावना है। कुछ जगहों पर बारिश भी हो सकती है। यह परिवर्तन सोमवार से जम्मू कश्मीर के ऊपर सक्रिय हो रहे पश्चिमी विक्षोभ की वजह से होगा, जो काफी काफी सशक्त माना जा रहा है।

मौजूदा विक्षोभ हिमाचल प्रदेश के ऊपर बना हुआ है। प्री मानसून गतिविधियां भी शुरू हो गई हैं। अरब सागर और बंगाल की खाड़ी से नम हवाएं मैदानी क्षेत्रों की और बढ़ रही हैं। अरब सागर के ऊपर मजबूत चक्रवाती हवा का क्षेत्र बना हुआ है। मध्य प्रदेश के ऊपर भी चक्रवाती हवा का क्षेत्र विकसित हो रहा है। इन सबके असर से बारिश, आंधी और कहीं कहीं बिजली गिर सकती है।

चंद्रशेखर आजाद कृषि एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय के मौसम विज्ञानी डॉ. एसएन सुनील पांडेय ने बताया की प्री मानसून में इस तरह की गतिविधियां होती हैं। अभी ज्यादा गर्मी नहीं पड़ेगी। उमस रहेगी, लेकिन तापमान कम बढ़ेगा। बादल छाए रहने की संभावना है। पश्चिमी विक्षोभ की वजह से करीब 30 किलोमीटर की रफ्तार से हवा चल सकती है। धूल भरी आंधी आने के आसार हैं। हवा में नमी का स्तर बढ़ने लगा है।

बीते दिवस अधिकतम तापमान 39.2 डिग्री सेल्सियस रहा, जो सामान्य से 0.4 डिग्री कम था। वहीं न्यूनतम तापमान 27.2 डिग्री सेल्सियस रहा, जो सामान्य से 1.09 डिग्री अधिक रहा। इसी तरह सापेक्षिक आर्द्रता अधिकतम 52 प्रतिशत और न्यूनतम 27 प्रतिशत रिकॉर्ड की गई है। उत्तर पूर्वी हवा की औसत गति 5.2 किमी प्रतिघंटा दर्ज की गई।

Edited By: Abhishek Agnihotri