कानपुर, जागरण संवाददाता। सचिवालय में नौकरी लगवाने का झांसा देकर पांच युवकों से लाखों की ठगी करके उन्हें फर्जी नियुक्ति पत्र व पहचान पत्र देने के मामले में रावतपुर पुलिस ने आरोपित होटल संचालक समेत चार लोगों को गिरफ्तार किया है। पुलिस सभी आरोपितों से पूछताछ कर रही है।

मूलरूप से जौनपुर के किल्हापुर गांव निवासी शिवम मिश्रा काकादेव स्थित हास्टल में रहकर प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे हैं। आरोप है कि नमक फैक्ट्री चौराहा स्थित होटल संचालक मैनपुरी के अलाव निवासी अनिल कुमार यादव ने शिवम व उसके चार साथियों को सचिवालय में नौकरी दिलाने का झांसा देकर उनसे करीब 22 लाख रुपए की ठगी की थी। इतना ही नहीं आरोपित होटल संचालक ने अपने साथी हंसपुरम निवासी धीरेंद्र उर्फ धीरू, कल्याणपुर के केशव विहार निवासी कुमार उज्जवल व फतेहपुर औंग निवासी पुष्पेंद्र उर्फ देवानंद उर्फ देवा की मदद से चारों युवकों को फर्जी नियुक्ति पत्र व पहचान पत्र भी थमा दिया था।

इसके बाद नौकरी करने सचिवालय पहुंचे युवकों को अपने साथ हुई ठगी की जानकारी हुई तो पीड़ितों ने आरोपित होटल संचालक व उसके साथियों के खिलाफ धोखाधड़ी समेत अन्य धाराओं में रिपोर्ट दर्ज कराई थी। रावतपुर थाना प्रभारी अजान सिंह ने बताया कि आरोपितों के पास से 2.38 लाख रुपये, चार बैंकों के एटीएम कार्ड, पासबुक, चेकबुक, कूटरचित सचिवालय का पहचान पत्र आदि बरामद हुआ है। आरोपितों ने अभी तक कितने लोगों को ठगी का शिकार बनाया है। इसकी जांच की जा रही है। 

Edited By: Abhishek Agnihotri