कानपुर, जागरण संवाददाता। Kanpur Pitbull Attack: यूपी (Uttar Pradesh) के लखनऊ में पिटबुल के हमले से महिला की मौत के बाद घटनाएं बढ़ती जा रही हैं। गाजियाबाद में बच्चे पर हमले की घटना के बाद अब कानपुर में पिटबुल (Pitbull Dog Attack) का खौफनाक वीडियो वायरल (Video viral) हो रहा है। पालतू कुत्तों (Pet Dogs) को लेकर दिशा-निर्देश जारी होने के बावजूद शहर में अभी तक अंकुश लगता नहीं दिख रहा है। वीडियो कानपुर के सरसैया घाट का बताया जा रहा है और इसमें पिटबुल ने गाय के मुंह को अपने जबड़े में दबा रखा है।

कानपुर के सरसैया घाट का वीडियो

कानपुर में गंगा नदी किनारे सरसैया घाट पर चार पिटबुल डॉग ख़तरा बने हुए हैं। गुरुवार को एक वीडियो वायरल हुआ तो लोगों में एक बार फिर पिटबुल को लेकर दहशत फैल गई। वीडियो में पिटबुल कुत्ता अपने जबड़े में गाय का मुंह जकड़े हुए है। गाय दर्द से छटपटा रही है और लोगों की डंडे की मार के बावूजद पिटबुल अपनी जकड़ को ढीली नहीं कर रहा है।

पिटबुल मालिक समेत तीन लोग पिटबुल पर लगातार हमला करके उसे खींचने का प्रयास कर रहे हैं लेकिन वह गाय का मुंह नहीं छोड़ रहा है। इस बीच किसी के कहने पर तीनों लोग उसे खींचते हुए गंगा नदी तक ले गए और लगातार पिटबुल पर रॉड से हमला किया तब कहीं उसने गाय का मुंह छोड़ा। इससे पहले गाय बुरी तरह घायल हो चुकी थी। इस दौरान घाट किनारे गंगा नदी किनारे सरसैया घाट पर लोगों की भीड़ लगी रही और किसी ने वीडियो बनाकर वायरल कर दिया।

नगर निगम की टीम ने दो कुत्तों को पकड़ा

दरअसल, सरसैया घाट पर रहने वाले सुमित मिश्रा ने दो पिटबुल डॉग पाल रखे हैं। पितृ पक्ष में लोग सुबह तर्पण के लिए आते हैं। गुरुवार को पिंड दान के बाद तर्पण करने वालों ने गाय को आटे की लोई खिलाई, जिसके बाद आक्रमक हुए पिटबुल कुत्ते ने गाय का मुंह अपने जबड़े में दबा लिया था।

नगर निगम के मुख्य पशु चिकित्साधिकारी डा आरके निरंजन ने बताया कि सुमित मिश्रा के दो पिटबुल कुत्ते थे। इनको पकड़ कर रायपुरवा स्थित पशु चिकित्सालय में परीक्षण कराया जा रहा है। नियमानुसार मालिक पर जुर्माना और अन्य कार्रवाई की जाएगी।

कोतवाली प्रभारी शरदेंदु पांडेय ने बताया कि वीडियो की जानकारी मिली है। कुत्ता पुजारी का होने की जानकारी मिली थी लेकिन जांच में पता चला है कि कुत्ता उसका भी नहीं है। अगर कोई शिकायत करता है तो इस प्रकरण में कार्रवाई की जाएगी।

पहले भी हो चुकी घटनाएं

पिटबुल का हमला कितना खतरनाक होता है, इसकी घटनाएं पहले भी लखनऊ और गाजियाबाद में सामने आ चुके हैं। यूपी की राजधानी लखनऊ में पिटबुल डॉग ने अपनी ही मालकिन पर हमला करके जान ले ली थी। इस घटना के बाद लखनऊ प्रशासन ने कुत्ते को कब्जे में लिया था। देश दुनिया में चर्चा में रही इस घटना के बाद प्रदेश के सभी शहरों में पालतू कुत्तों को लेकर दिशा निर्देश भी जारी किए गए थे। कुछ दिन बाद ही गाजियाबाद के एक पार्क में टहल रहे 11 वर्षीय बच्चे पर पिटबुल ने हमला कर दिया था। गंभीर घायल बच्चे के चेहरे पर 150 टांके लगे थे।

Edited By: Abhishek Agnihotri

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट