कानपुर, जागरण संवाददाता। नई सड़क उपद्रव के सह आरोपित जावेद अहमद के खिलाफ विशेष जांच दल (एसआइटी) ने राष्ट्रीय सुरक्षा कानून (रासुका) की कार्रवाई के लिए फाइल अनुमोदन के लिए जिलाधिकारी के यहां भेजी थी। जिस पर रविवार को जिलाधिकारी विशाख जी ने संस्सुति कर दी है। जल्द ही एसआइटी बस्ती के जिला कारागार में रासुका तामील कराएगी। 

बीते तीन जून को नई सड़क पर जबरन दुकानें बंद कराने के विरोध पर पुलिस पर पथराव, बमबाजी और फायरिंग हुई थी। जिसमें पुलिस ने 55 नामजद व अज्ञात के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर बड़ी संख्या में गिरफ्तारियां की थी।

एसआइटी ने कुछ समय पहले मुख्य आरोपित हयात जफर हाशमी पर राष्ट्रीय सुरक्षा कानून की कार्रवाई की थी। घटना में पुलिस तीन और आरोपितों पर रासुका की कार्रवाई की तैयारी कर रही थी। इस क्रम में एसआइटी ने उपद्रव के सह आरोपित जावेद अहमद के खिलाफ रासुका की कार्रवाई के लिए फाइल अनुमोदन के लिए भेजी थी। जिस पर जिलाधिकारी ने संस्तुति की है।

बता दें कि हाल में ही जावेद के अधिवक्ता ने उच्च न्यायालय में जमानत की अर्जी दाखिल की थी। अर्जी लगते ही पुलिस ने रासुका की कार्रवाई को बढ़ाया था। रविवार को जिलाधिकारी ने इसकी संस्तुति कर दी है।

लोकसभा चुनाव लड़ चुका है जावेद

नई सड़क उपद्रव के सह आरोपित जावेद अहमद वर्ष 2019 में निर्दलीय लोकसभा चुनाव लड़ चुका है। एसटीएफ से हुई पूछताछ में यह तथ्य प्रकाश में आए थे। सह आरोपित कंप्यूटर हार्डवेयर और साफ्टवेयर की अच्छी जानकारी रखता है।

मोहम्मद सूफियान और राहिल पर भी  लगेगी रासुका

नई सड़क बवाल में सह आरोपित मोहम्मद सूफियान और मोहम्मद राहिल पर भी राष्ट्रीय सुरक्षा कानून (रासुका) की कार्रवाई की जानी है। इन दोनों सह आरोपितों की भी फाइल तैयार की जा रही है। जल्द ही अनुमोदन के लिए भेजा जाएगा।

जिलाधिकारी ने सह आरोपित जावेद पर रासुका की कार्रवाई की संस्तुति की है। जल्द ही एसआइटी जेल में इसे तामील कराएगी। अन्य आरोपितों पर भी कार्रवाई की जाएगी। - बीपी जोगदण्ड, पुलिस आयुक्त

Edited By: Nitesh Mishra

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट