कानपुर, जागरण संवाददाता। Kanpur News आजादी के 75 वर्ष पूरे होने पर मनाए जा रहे अमृत महोत्सव की श्रृंखला में सोमवार को जरौली से निकली तिरंगा रैली में शामिल एक कार ने घर के बाहर बैठी दो महिलाओं को टक्कर मारने के बाद एक बाइक से टकराकर रुकी।

दोनों महिलाएं घायल हो गईं। गुस्साए लोगों ने एक युवक को पकड़ा तो रैली के लोगों ने धमकाकर उसे छुड़ा लिया। मौके पर पहुंची बर्रा पुलिस घायलों को अस्पताल ले गई।

जरौली निवासी सनी सिंह के नेतृत्व में सोमवार दोपहर तिरंगा रैली निकाली गई। रैली में 100 से ज्यादा दो और चार पहिया वाहन में लोग बैठे थे। रैली जरौली से कर्रही रोड होते हुए जैसे ही बर्रा विश्व बैंक के एच ब्लाक रोड पर पहुंची।

तभी रैली की क्रेटा कार अनियंत्रित होकर घर के बाहर बैठीं पुष्पा सचान उनकी पड़ोसी सुमन पाल को टक्कर मारकर तीसरे मकान के बाहर खड़ी बाइक में टक्कर मारकर रुकी। हादसे में पुष्पा के सिर पर चोट आई और सुमन के दाएं पैर में गंभीर चोटें आईं।

हादसे से गुस्साए लोगों ने कार में बैठे एक युवक को पकड़ लिया,जबकि अन्य कार छोड़कर लोग भाग निकले। वहीं रैली में कुछ पुलिसकर्मी भी साथ साथ चल रहे थे।।लोगों का आरोप है पुलिस हादसा देखने के बाद भी पीछे खड़ी रही।

इस दौरान रैली के लोग धमकाकर युवक को छुड़ा ले गए। लोगों ने सूचना कंट्रोल रूम पर दे मौके पर बर्रा थाने की पुलिस पहुंची और घायलों को अस्पताल ले गई। थाना प्रभारी दीनानाथ मिश्रा ने बताया तहरीर मिलने पर मुकदमा दर्ज कर आरोपितों पर कार्रवाई की जाएगी।

 

Edited By: Abhishek Verma