कानपुर, जागरण संवाददाता। नगर निगम द्वारा बनी सड़कों को फिर से बनाए जाने का मामला दैनिक जागरण द्वारा उठाए जाने के बाद खलबली मची हुई है। पहले चरण में नगर निगम ने पीरोड में बन रही तीन सड़कों का टेंडर निरस्त करने का फैसला लिया है। सड़क निर्माण में खर्च होने वाले धन से जरूरी विकास कार्य कराए जाएंगे। इसके अलावा अभी कई सड़कों का सर्वे किया जा रहा है। कई अन्य सड़कों का टेंडर निरस्त होगा।

12 नवंबर को 264 विकास कार्यों में कई सड़कें दुरुस्त होने के बाद भी उनको भी टेंडर में शामिल कर लिया गया। दैनिक जागरण ने कई सड़कों का निरीक्षण किया तो एक वार्ड में तीन ऐसी सड़कें शामिल कर दी गई जो पहले से बनी हुई थी। मात्र कुछ जगह पैचवर्क होना था। दैनिक जागरण में मामला छपने के बाद खलबली मच गई। खुद मुख्य अभियंता एसके ङ्क्षसह ने कई सड़कों का सर्वे किया। इसमें से तीन सड़कों का टेंडर निरस्त करने के आदेश सहायक अभियंता को दिए है। साथ ही बाकी सड़कों का भी सर्वे कराया जा रहा है। अभी तमाम सड़कें शामिल है। मुख्य अभियंता ने बताया कि इसमें निरस्त सड़कों के निर्माण के बाद बचे धन से दूसरे अधूरे कार्य कराए जाएंगे। इसको लेकर सभी अभियंताओं को आदेश दिए है कि विकास कार्य होने से पहले सर्वे कराके कोई ऐसी सड़क शामिल हो जो बनी है उसको निरस्त करने की कार्रवाई की जाए।

Edited By: Abhishek Agnihotri