कानपुर, जेएनएन। Kanpur Metro Latest News कानपुर की मेट्रो मंगलवार को पहली बार खुल कर सामने आई। पालीटेक्निक डिपो में मंगलवार सुबह दूसरी ट्रेन के कोच आए तो उन्हें परिसर में ही खोला गया। इस मौके पर डिपो में मौजूद अधिकारियों और कर्मचारियों ने उनकी मेट्रो की पहली झलक की फोटो खींची और वीडियो बनाए। इस मौके पर जिलाधिकारी विशाख जी अय्यर भी पहुंचे और उन्होंने ट्रेन के कोच देखने के साथ मेट्रो की तैयारियों के बारे में जानकारी हासिल की। 

कानपुर की पहली मेट्रो ट्रेन के कोच पिछले माह के अंत में ही कानपुर आ गए थे। मंगलवार सुबह दूसरी ट्रेन के तीनों कोच भी आ गए। इन्हें भी प्रोजेक्ट निदेशक के कार्यालय के सामने बनाए गए ट्रैक पर उतारा गया। पिछली बार ट्रेन के कोच बिना कवर हटाए असेंबलिंग एरिया में ले जाए गए थे। इसलिए अभी तक उन्हें जनता के सामने नहीं लाया गया है। वहीं दूसरी मेट्रो के कोच आने के बाद उन्हें ट्रैक पर उतारते ही कवर भी हटा दिए गए। इसकी वजह से सभी डिपो के अंदर मौजूद सभी लोगों को तो मेट्रो के कोच देखने का मौका मिला। इसी मौके पर जिलाधिकारी पहुंचे तो उन्होंने प्रोजेक्ट निदेशक से तैयारियों की स्थितियों के बारे में जानकारी की। उन्होंने यह भी जाना कि किस-किस स्टेशन पर कितना काम बाकी है। बाद में इन कोच को अंसेंबङ्क्षलग एरिया में भेजा गया। वहीं पहले आई मेट्रो ट्रेक के कोच जल्द ही असेंबल होकर बाहर ट्रैक पर परीक्षण के लिए लाए जाएंगे। एलएलआर मेट्रो स्टेशन की होगी मल्टीलेवल पार्किंग : जीएसवीएम मेडिकल कालेज के एलएलआर अस्पताल (हैलट) के मेट्रो स्टेशन की मल्टीलेवल पार्किंग बनेगी। अस्पताल के अधिकारियों एंव के अलग से पार्किंग भी बनेगी। ओपीडी ब्लाक में मरीजों का जबरदस्त दबाव है, जिसके लिए ओपीडी पंजीकरण के 12 काउंटर बनाए जाएंगे। साथ ही मरीजों व तीमारदारों के लिए एक हजार की क्षमता का वेटिंग एरिया भी बनाया जाएगा। यह कार्य स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट के तहत कराए जाएंगे। इसके लिए मंगलवार को मंडलायुक्त डा. राजशेखर ने एलएलआर का जायजा लिया। मेट्रो की पार्किंग के लिए जगह भी चिह्नित की। 

जीएसवीएम मेडिकल कालेज के एलएलआर अस्पताल (हैलट) में शहर की नहीं आसपास के 10-12 जिलों के मरीज इलाज के लिए आते हैं। यहां की ओपीडी में विभिन्न बीमारियों से पीडि़त चार से पांच हजार मरीज रोज आते हैं। ऐसे में मरीजों और उनके तीमारदारों वाहन पार्किंग की जगह न होने पर जहां-तहां खड़े किए जाते हैं। मेडिकल कालेज के प्राचार्य प्रो. संजय काला ने कानपुर स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट से नया पार्किंग एरिया, अतिरिक्त काउंटर और मरीजों व तीमारदारों के बैठने की व्यवस्था करने का आग्रह किया था। इस दौरान नगर आयुक्त शिव शरणप्पा जीएन, उप प्राचार्य प्रो. रिचा गिरि, प्रमुख अधीक्षक प्रो. आरके मौर्या साथ रहे।

पार्किंग में 200 चौपहिया व 1000 दोपहिया वाहन : आयुक्त डा. राजशेखर ने जगह का जायजा लिया। उन्होंने मेडिसिन विभाग के सामने के पार्क की जगह चिन्हित की है। मल्टी लेवल पार्किंग में 200 चौपहिया और 1000 दोपहिया वाहन खड़े हो सकेंगे। इसके अलावा मेडिसिन विभाग के बगल में अधिकारियों व कर्मचारियों के वाहन खड़े होंगे। ओपीडी के नए पंजीकरण काउंटर के लिए कैंटीन के पास की जगह देखी, जहां 12 काउंटर बनेंगे। इसी जगह पर एक हजार की क्षमता का प्रतीक्षालय बनेगा। 

Edited By: Shaswat Gupta