कानपुर, जागरण संवाददाता। शहर के चारों ओर रिंग रोड और दक्षिण क्षेत्र में प्रस्तावित डिफेंस इंडस्ट्रियल कारिडोर के आस-पास के गांवों की जमीन को कानपुर विकास प्राधिकरण (केडीए) के क्षेत्र में शामिल कराकर शहर के विस्तारीकरण की तैयारी की जा रही है। इसको लेकर गठित कमेटी ने प्रस्ताव को अंतिम रूप दे दिया है। इसके तहत 116 गांवों की 30,359 हेक्येटर जमीन केडीए के क्षेत्र में शामिल होगी। प्रस्ताव को स्वीकृति के लिए 24 सितंबर को केडीए बोर्ड बैठक में रखा जाएगा।

भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण ने शहर के चारों ओर रिंग रोड का प्रस्ताव तैयार किया है। इसका उत्तरी भाग उन्नाव के क्षेत्र में प्रस्तावित है। कानपुर-लखनऊ एक्सप्रेसवे भी इस क्षेत्र को आपस में जोड़ रहा है। वहीं, गंगा एक्सप्रेसवे कानपुर-लखनऊ के मध्य प्रस्तावित रैपिड रेल ट्रांजिट सिस्टम का भी क्षेत्र है।

यहां पर राष्ट्रीय और प्रदेश स्तर से घोषित विभिन्न नीतियों के तहत आने वाली परियोजनाओं का क्रियान्वयन किया जा सकता है। इसके अलावा दक्षिण क्षेत्र में डिफेंस इंडस्ट्रियल कोरीडोर परियोजना प्रस्तावित है। इसके विस्तार को लेकर एक समिति गठित की गयी थी। कमेटी ने सर्वसम्मिति से सामूहिक रूप से विस्तारित क्षेत्र के प्रस्ताव को अंतिम रूप दे दिया है। अब बोर्ड में प्रस्ताव रखा गया है।

तहसीलों के इतने गांव होंगे शामिल

कानपुर सदर तहसील के 2 गांव : हदौली, टीकर मघई।

नर्वल तहसील के 18 गांव : अमौर, कुंदौली, चिरली, तारगांंव नर्वल, तेलियावर, बेहटा गंभीरपुर, रसूलपुर जाजमऊ, राजेपुर, लक्ष्मणखेड़ा, साढ़. बड़ा गाव,.कुशगरा, गहौली, नौगवा गौतम, पुरवामीर, सिकठिया, तिवारीपुर

बिल्हौर तहसील के 39 गांव : अमिलिहा, आलमपुर, इटरा, इंदलपुर जुगराज, उमरी, कुर्मी खंडा कला, गजेनपुर, गोगूमऊ, गोविंदेपुर, चककाजी अलिहा, चक गोविंदेपर, चक बेचा, चक हजरतपुर, चौधरीपुर, चौबेपुर कला, ताजपुर, तिघरा, दरियापुर बिठूर, दिलावपुर, टोसवा, देवपालपुर नाडूपुर, पचोर, पीरकपुर, पूरा गनू, विशनपुर, बूढ़नपुर, बैदानी, भवानीपुर, भिखारीपुर, मकरंदपुर शिवराजपुर, महाराजपुर, माली, रामगोपालपुर, रामपुर किशोर सिं, रूदापुर, सराय छीतम, हरदारापुर, ह्दयपुर मजरा गोगूमऊ।

कानपुर देहात अकबरपुर तहसील के 11 गांव : फतेहपुर रोशनाई, गोहनी, रायपुर कुकहट, लोधीपुर, शेरपुर तरौदा, किसरवल,  चिरौरा,  देवकली, पंजुवा, , बिसायकपुर,  मुबारकपुर लाटा।

कानपुर देहात के मैथा तहसील के 13 गांव :  जगरपुर बिठूुर, चक टोडरपुर, चक रतनपुर, टोडरपुर, ढिकिया,पिटरापुर, भाऊपुर, मलिकपुर, रास्तपुर, रंजीतपुर, शेखपुर, सिंहपुर देवनी, ह्दयपुर मजरा प्रतापुर।

उन्नाव सदर तहसील के 33 गांव : अगेहरा, कटरी बराधना, कटरी मिर्जापुर, कटरी रामपुर,कटरी रोतापुर, रोतापुर,बसधना, बररौला, भटपुरवा, मिर्जापुर, रामपुर, लालपुर, सन्नी, सिलौली गढ़ी, हाजीपुर, अलुहापुर सरसा, आटा, कटरी अलुहापुर सरसा, कटरी पीपर खेड़ा, कटरी बदरका(तुर्किया)

गांव पहले ही शामिल

कानपुर नगर के - 306

कानपुर देहात के - 51

उन्नाव के - 29

डिफेंस इंडस्ट्रियल कोरीडोर के आसपास के तहसील नर्वल के ग्राम आ रहे है। यहां पर मल्टी माडल लाजिस्टिक पार्क तथा न्यू कानपुर के नाम पर डीएफसी का मुख्य स्टेशन प्रस्तावित है। उक्त परियोजना के प्रभाव क्षेत्र में विभिन्न वाणिज्यिक, व्यावसायिक, औद्योगिक , उच्च शिक्षण संस्थान आदि का विकास हो सकता है। इसके अलावा आवास की भी मांग है।

कानपुर विकास क्षेत्र पश्चिम- दक्षिण दिशा में कानपुर- आगरा -दिल्ली राष्ट्रीय राज्य मार्ग 19 के आसपास तहसील अकबरपुर के ग्राम पड़ेंगे। यहां पर एनएच 19 के दोनों और मात्र पांच सौ मीटर का क्षेत्र वर्तमान में केडीए में शामिल है। जबकि स्थल के पांच सौ मीटर से अधिक क्षेत्र में विभिन्न वाणिज्यक, व्यावसायिक. औद्योगिक, उच्च शैक्षिण संस्थान आदि गतिविधियों के विकास की स्थिति है। इसके अलावा आवास की भी मांग है।

विस्तार में - आवासीय योजना के साथ ही औद्योगिक, व्यावसायिक और शिक्षण संस्थाओं का निर्माण हो सकता है।

शहर को मिलेगा लाभ : माफिया के चुंगल से लोग बचेगे। चारों तरफ आवासीय योजना होने से लोगों का मकान मिलने का सपना पूरा होगा। साथ ही औद्योगिक व व्यावसायिक योजना से शहर के विस्तरा के साथ ही रोजगार भी बढ़ेगा।

महायोजना प्लान 2031 का प्रस्ताव बोर्ड में रखा जाएगा : महायोजना प्लान 2031 का प्रस्ताव केडीए की बोर्ड बैठक में रखा जाएगा। बोर्ड की स्वीकृति के बाद शासन को स्वीकृति के लिए भेजा जाएगा। शासन की स्वीकृति मिलते ही इस महायोजना प्लान 2031 को लागू कर दिया जाएगा।

जोनल डेवलमेंट प्लान : केडीए जोनल डेवलपमेंट प्लान तैयार कर रहा है। मेट्रो से जु़ड़े क्षेत्रों में विकास कराया जा रहा है। इसको बोर्ड के समझ रखा जाएगा। क्षेत्र का विकास कार्य कराया जाएगा।

दस योजनाओं के फ्लैटों के दाम फ्रीज करने की तैयारी : केडीए ने दस योजनाओं के फ्लैटों के दाम फ्रीज किए जाने की तैयारी की जा रही है। इसका प्रस्ताव बोर्ड में रखने जा रहे है।

Edited By: Abhishek Agnihotri