1.GST Raid : कन्नौज में इत्र कारोबारी के कारखाने और दफ्तर में छापा, टीम ने कब्जे में लीं फर्म की लेखा पुस्तिकाएं

शहर में पीयूष जैन के पैतृक घर पर छापे के बाद इत्र कारोबारियों पर जीएसटी विभाग की नजरें हमेशा से टेढ़ी बनी हुई हैं। गुरुवार को इटावा और फतेहगढ़ की जीएसटी टीम ने मोहल्ला कचहरी टोला में इत्र कारोबारी संजय गुप्ता के आवास व प्रतिष्ठान पर छापा मारा।जीएसटी टीम के अधिकारियों का कहना है कि इत्र कारोबारी संजय गुप्ता की दो फर्मों का टैक्स कम जमा हो रहा था। इसी को लेकर टीम ने छापा मारकर लेखा पुस्तिकाओं की जांच शुरू की है। अचानक हुई छापामारी से इत्र कारोबारियों में खलबली मच गई है। उत्तर प्रदेश राज्य जीएसटी विभाग के ज्वाइंट कमिश्नर हरिलाल प्रजापति नेतृत्व में 12 सदस्य टीम ने कचहरी टोला में इत्र कारोबारी संजय गुप्ता उर्फ बउआ के यहां छापा मारा। काफी देर तक उनके कारखाने और दफ्तर में छानबीन की और मीडिया से दूरी बनाकर रखी। ज्वाइंट कमिश्नर ने बताया कि संजय गुप्ता की दो फर्में हैं, जिसमें फ्लावर परफ्यूमर्स प्राइवेट लिमिटेड तथा केबी फ्रैगरेंस का तीन साल का टैक्स अपेक्षाकृत कम जमा हो रहा है। इसको लेकर विभाग को संदेह है कि बडे़ पैमाने पर टैक्स चोरी हो सकती है। इसी सिलसिले में उनकी दोनों फर्मों की लेखा पुस्तिकाओं की जांच की जा रही है। यदि टैक्स में गड़बड़ी पाई गई तो निश्चित रूप से कार्रवाई की जाएगी।

2.Kanpur : पारिवारिक विवाद के कारण कपड़ा व्यापारी ने लगाई आग, रुपए के लेन-देन में मानसिक तनाव में चल रहे थे

चकेरी में पारिवारिक विवाद के कारण कपड़ा व्यापारी ने खुद को आग लगाकर आत्महत्या करने का प्रयास किया। चीख-पुकार सुनकर स्वजन ने आग बुझाई। साथी आनन-फानन में उन्हें निजी अस्पताल में भर्ती कराया।चकेरी के सतबरी रोड निवासी 45 वर्षीय सत्येंद्र गुप्ता कपड़ा व्यापारी हैं। घर के पास ही स्थित सतबरी रोड पर उनकी साड़ी की दुकान है। पुलिस के अनुसार उनका अपने एक रिश्तेदार से रुपए का लेन देन है। जिस विवाद के कारण वह काफी समय से मानसिक तनाव में चल रहे थे। गुरुवार सुबह उन्होंने विवाद के कारण खुद पर मिट्टी का तेल डालकर आग डालकर आत्महत्या करने का प्रयास किया। चीख-पुकार सुनकर स्वजन मौके पर पहुंचे और उन्होंने आग बुझाई। जिसके बाद आनन-फानन में स्वजन उन्हें निजी अस्पताल ले गए। साथ ही हादसे की जानकारी पुलिस को दी।

3.Kanpur News : बिधनू में जिला पंचायत सदस्य ने लेखपाल को पीटकर अभिलेख छीने, जमीन की पैमाइश को लेकर हुआ विवाद

 बिधनू थाना क्षेत्र के पिपरगवां गांव में बुधवार शाम एक जमीन नापने को लेकर जिला पंचायत सदस्य और लेखपाल के बीच पहले फोन पर कहासुनी हुई। इसके बाद आधा दर्जन लोगों के साथ मौके पर पहुंचे जिला पंचायत सदस्य ने लेखपाल को जमकर पीटा और जरूरी अभिलेख छीन लिए। लेखपाल की तहरीर पर पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर लिया है। नरवल तहसील में लेखपाल पद पर कार्यरत विनोद कुमार उमराव ने बताया कि एक महिला लक्ष्मी देवी ने पिपरगंवा में गाटा संख्या 31 में बीनू कुशवाह से प्लाट खरीदा है। बुधवार को वह पिपरगंवा में गाटा वार पड़ताल कर रहे थे। तभी लक्ष्मी देवी ने पाली जिला पंचायत सदय रविराज फोन पर बात कराई। फोन पर रविराज ने प्लाट नापने को बोला। जिसपर वह प्लाट नापने के लिए मौके पर पहुंचे तो उन्हें गाटा संख्या 31 के बजाए 33 में प्लाट दिया जा रहा था।

4.Monkey Attack Fear: यहां बंदरों की दहशत से बच्चों ने स्कूल जाना छोड़ा, रिश्तेदारों से फोन कर कह रहे न आना घर

बंदरों की दहशत से नन्हे-मुन्ने बच्चों ने स्कूल जाना छोड़ दिया है। बस्ती के लोग घरों में कैद रहने को मजबूर हैं। घर से बाहर निकलना जोखिम भरा साबित हो रहा है। बंदर अब तक 50 से अधिक लोगों को जख्मी कर चुके हैं। रिश्तेदारों, शुभचिंतकों, परिचितों को काल करके सलाह दी जाती है कि वे बस्ती में न आएं। आएं तो पूरी सतर्कता और पुख्ता इंतजाम करके। यह दहशत भरा माहौल है सुंदरपुर, कन्हैयानगर में। तीन दिन पहले रविवार सुबह मंदिर से पूजा करके बाहर निकली वृद्ध शीतला श्रीवास्तव पर बंदर ने हमला कर घायल कर दिया। उन्हें जिला अस्पताल ले जाया गया, उनकी हालत गंभीर है। बुधवार को ज्ञानदीप इंटर कालेज के पास दुकान पर बैठी महिला पर बंदरों ने हमला कर घायल कर दिया, उसको भी अस्पताल ले जाया गया। ये दोनों हालिया घटनाएं हैं जबकि बंदरों के हमले कुछ महीनों से जारी हैं। क्षेत्र में कई बंदर आक्रामक हो गए हैं, वे अक्सर इंसानों पर हमला कर उन्हें जख्मी कर रहे हैं। विगत सप्ताह एक महिला अपने बच्चे को स्कूल छोड़ने जा रही थी, बंदरों ने महिला और बच्चे को हमला कर गंभीर घायल कर दिया। 

5.स्कूल में तीन छात्रों और शिक्षक को लगा करंट का झटका, पेड़ों के ऊपर से गुजरे है 11 हजार वोल्ट वाले विद्युत तार

अछल्दा के नल्हुपुर गांव स्थित उच्च माध्यमिक विद्यालय में गुरुवार को उस समय अफरा तफरी मच गई, जब तीन छात्र और एक अध्यापक को करंट का तेज झटका लग गया। ये पड़ों के ऊपर से गुजरे 11 हजार वोल्ट की हाईटेंशन लाइन के तार खतरा बने हुए हैं। अछल्दा क्षेत्र के उच्च माध्यमिक विद्यालय कंपोजिट नल्हुपुर में कई पेड़ हैं। इसके ऊपर से 11 हजार वोल्ट की हाईटेंशन लाइन के तार गुजरे हैं। महानिदेशक स्कूल शिक्षा विजय किरन आनंद ने एक माह पूर्व निर्देश दिए थे कि विद्यालयों की छत या परिसर से गुजरे बिजली के तार हटवाकर सुरक्षित किया जाए। इस आदेश के बाद स्थानीय अफसरों ने पत्राचार किया लेकिन बिजली विभाग की ओर से चिह्नित करीब 32 स्कूलों से तार हटाने को लेकर ध्यान नहीं दिया। चिहि्नत स्कूलों में नल्हुपुर का विद्यालय भी है। और यहां भी हाईटेंशन लाइन के तार पेड़ों के ऊपर से गुजरे हैं। 

Edited By: Abhishek Verma

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट