कन्नौज, जागरण संवाददाता। कोचिंग पढ़ने गई छात्रा का आरोपितों ने अपहरण कर लिया और उसका मतांतरण करा देह व्यापार में धकेलने की योजना बनाई। आरोपित इससे पहले योजना में सफल हो पाते पुलिस ने आरोपितों के कब्जे से नाबालिग छात्रा को बरामद कर लिया। पुलिस ने पिता और पुत्रों समेत पांच पर मुकदमा दर्ज कर लिया है। साथ ही मुख्य आरोपित नाबालिग को गिरफ्तार कर लिया है। शेष आरोपितों को गिरफ्तार करने के लिए पुलिस दबिश दे रही है। 

कोतवाली छिबरामऊ के एक कालोनी निवासी व्यक्ति ने बताया कि उनकी 14 वर्षीय बेटी एक इंटर कालेज में कक्षा 11 की छात्रा है। वह 20 सितंबर की दोपहर 2.45 बजे घर से कोचिंग पढ़ने आवास विकास कालोनी गई थी। इसके बाद देर शाम तक घर वापस नहीं आई। रिश्तेदारी में पता किया लेकिन कोई पता नहीं चल सका।

लोगों ने बताया कि बेटी को मोहल्ला ऊंचा बरतिया निवासी नाबालिग अपने भाई ताहिर व पिता सलीम सहित दो अज्ञात लोगों की मदद से ले गया है। इस पर वह सलीम के घर गए। सलीम व उनके बेटे ने कहा कि उनकी बेटी को अल्लाह की राह में भेज दिया है। अब ज्यादा खोजबीन व शिकायत न करो, नहीं तो परिवार सहित जान से मार देंगे।

दावा है कि आरोपितों  ने उनकी बेटी का मतातंरण कराकर देह व्यापार में धकेलने की मंशा जाहिर की। इस पर उन्होंने पुलिस से शिकायत की। पुलिस ने दो दिन बाद शुक्रवार को नाबालिग छात्रा को नाबालिग आरोपित के साथ तहसील परिसर के पश्चिमी गेट से पकड़ लिया। पुलिसे आरोपितों के खिलाफ छात्रा को ले जाने का षड्यंत्र रचने, अपहरण का मुकदमा दर्ज किया गया।

इसके साथ ही आरोपितों पर उत्तर प्रदेश विधि विरुद्ध धर्म परिवर्तन प्रतिषेध अधिनियम 2020 की धारा 3/5 में भी मुकदमा दर्ज किया गया है। निरीक्षक क्राइम हरिशंकर ने बताया कि मुख्य आरोपित को गिरफ्तार कर लिया गया है। अन्य की तलाश कराई जा रही हैं। बताया कि पकड़ा गया आरोपित कक्षा 10 का छात्र है। वह भी उसी कालेज में पढ़ता है, जिसमें छात्रा पढ़ती है। उसने दावा किया कि वह उसे दो साल से जानता है।

Edited By: Abhishek Agnihotri