कानपुर, जेएनएन। प्रदेश में लव जिहाद के खिलाफ अध्यादेश आने के बाद जिले में पहला मामला गुरसहायगंज कोतवाली में दर्ज हुआ है। यहां के एक मुस्लिम युवक तौफीक ने राहुल वर्मा नाम से निजी स्कूल की शिक्षिका को प्रेमजाल में फंसा लिया और लखनऊ जाकर निकाह कर लिया। इंटरनेट मीडिया पर फोटो वायरल होने के बाद पोल खुल गई। एसपी ने मामले को संज्ञान में लेकर कोतवाल को कड़ी कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं। 

यह है पूरा मामला

गुरसहायगंज कोतवाली के ग्राम खांड़ेदेवर निवासी तौफीक खान ने राहुल वर्मा नाम से फेसबुक आइडी बनाई, जिसमें स्वयं को लखनऊ का निवासी बताया। उसने कस्बा गुरसहायगंज की एक निजी विद्यालय की शिक्षिका को फ्रेंड रिक्वेस्ट भेजकर जोड़ लिया। बाद में मैसेंजर पर चैटिंग के दौरान वॉट्सएप नंबर ले लिया और दोनों की बातचीत होने लगी। दस दिसंबर को उसने शिक्षिका को बहाने से लखनऊ बुला लिया और उससे निकाह कर लिया। उसने शादी कार्ड भी छपवाया था, जिसमें अपना नाम राहुल वर्मा पुत्र राजेश वर्मा निवासी लखनऊ लिखाया था। निकाह के कुछ दिन बाद उसने इंटरनेट मीडिया पर फोटो पोस्ट किए तो वह वायरल हो गई, जिसमें राहुल की असली पहचान उजागर हो गई।

शिक्षिका के स्वजन की तो पैरों तले जमीन खिसक गई। टेलरिंग का काम करने वाले उसके पिता ने पुलिस को मामले से अवगत कराया तो भाजपा जिला उपाध्यक्ष जीतू तिवारी समेत कई हिंदूवादी संगठनों ने भी पुलिस से कार्रवाई की मांग की। एसपी प्रशांत वर्मा ने भी मामले को संज्ञान में लिया तथा प्रभारी निरीक्षक राजा दिनेश सिंह को कार्रवाई के निर्देश दिए। शनिवार को पिता की तहरीर पर पुलिस लव जिहाद का पहला मामला दर्ज कर आरोपित तौफीक की तलाश शुरू कर दी है। 

इनका ये है कहना

पीडि़त की शिकायत पर कोतवाली गुरसहायगंज में लव जिहाद का मामला दर्ज कर लिया गया है। साक्ष्यों के आधार पर कार्रवाई की जा रही है। आरोपित पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी। 

                                                                                                             प्रशांत वर्मा, पुलिस अधीक्षक

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप