कन्नौज, जेएनएन। तिर्वा में आइटीआइ के सामने हादसे में छात्रा के घायल होने से गुस्साए छात्रों ने सड़क जाम कर हंगामा किया। टेंपो से उतर कर कॉलेज जा रही छात्रा को टक्कर मारने के बाद बोलेरो चालक भाग गया। घायल छात्रा को मेडिकल कॉलेज से लखनऊ ट्रामा सेंटर रेफर कर किया गया है। छात्रों ने बोलेरो चालक को पकड़े जाने की मांग की है।

कन्नौज कोतवाली क्षेत्र के मित्रसेनपुर गांव निवासी सुनील कुमार की 21 वर्षीय पुत्री सोनी पाल बहरीन स्थित आइटीआइ में बेसिक कास्मेटिक कोर्स का प्रशिक्षण प्राप्त कर रही है। सोमवार को कॉलेज जाते समय गेट के सामने टेंपो से उतरने के बाद वह मुड़ी तो कन्नौज की ओर से आ रही तेज रफ्तार बोलेरो ने टक्कर मार दी, जिससे सोनी उछलकर दूर जा गिरी। गंभीर रूप से घायल सोनी को अन्य छात्रों ने प्राइवेट वाहन से मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया।

हालत नाजुक होने पर उसे लखनऊ ट्रामा सेंटर रेफर कर दिया गया। घटना के बाद नाराज छात्र-छात्राओं ने रोड पर जाम लगा दिया और तीन घंटे तक जमकर हंगामा किया। मामले की जानकारी पर इंदरगढ़, ठठिया, तालग्राम, कन्नौज थानाध्यक्ष पहुंचे क्षेत्राधिकारी सुबोध कुमार जायसवाल ने छात्रों को मनाने की कोशिश की। बाद में पहुंचे सदर एसडीएम शैलेष कुमार व अपर पुलिस अधीक्षक विनोद कुमार ने आइटीआइ प्रधानाचार्य इं. नागेंद्र सिंह से बातचीत की तो गहमागहमी हो गई। प्रशासन ने कार्रवाई करने की चेतावनी दी तो छात्र सहम गए और जाम खोल दिया।

कॉलेज के सामने स्पीड ब्रेकर व मुआवजे की मांग

कन्नौज रोड से कॉलेज जाने वाले रास्ते के सामने स्पीड ब्रेकर बनवाने और घायल सोनी के इलाज के लिए मुआवजे की मांग करते हुए छात्रों ने हंगामा कियाी। छात्रों ने बताया कि कई बार हादसे हो चुके हैं और अधिकारियों से स्पीड ब्रेकर बनाने की मांग की गई लेकिन सुनवाई नहीं होती है। उपजिलाधिकारी ने स्पीड ब्रेकर बनवाने का आश्वासन दिया है।

Posted By: Abhishek

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस