कानपुर, जागरण संवाददाता। निराला नगर स्थित पराग डेयरी के आधुनिक प्लांट को चालू कराने के लिए महाप्रबंधक ने यूनियन बैंक से करीब चार करोड़ रुपये ऋण मांगा है। मामले में बैंक के सहायक महाप्रबंधक समेत अधिकारी प्लांट का निरीक्षण करने भी पहुंचे।

इसकी जानकारी मिलते ही अपना बकाया वसूलने नगर निगम के अधिकारी भी पराग डेयरी पहुंच गए, जहां महाप्रबंधक ने शासन से धनराशि मिलने पर भुगतान करने की बात कही। इसके बाद अधिकारी वापस लौट गए।

निराला नगर में वर्ष 2020 में चार लाख लीटर की क्षमता का आधुनिक प्लांट बनकर तैयार होने के बावजूद धन के अभाव में अब तक वह चालू नहीं किया जा सका है। इसके साथ ही पराग पर 18 करोड़ रुपये से ज्यादा की देनदारी भी है, जिसमें छह करोड़ के करीब नगर निगम का आवास, जलकल और सीवर कर बकाया है।

कर्ज में डूबे पराग प्रबंधन ने आधुनिक प्लांट चालू करने के लिए काफी जद्दोजहद की, लेकिन जब कोई रास्ता नहीं मिला तो महाप्रबंधक ने यूनियन बैंक के अधिकारी से करीब चार करोड़ का ऋण मांगा।

मामले में मंगलवार को यूनियन बैंक के सहायक महाप्रबंधक कुमार दीप्तिमान गुप्ता और गुजैनी शाखा प्रबंधक एमबी गौतम पराग का आधुनिक प्लांट देखने पहुंचे।

इसी बीच पराग को बैंक से ऋण मिलने की जानकारी होते हुए अपना बकाया वसूलने नगर निगम के अधिकारी पराग डेयरी पहुंच गए। पराग के अधिकारियों ने उन्हें शासन से धनराशि आने पर भुगतान करने की बात कही।

नगर निगम का काफी समय से बकाया है, लेकिन बैंक से जो ऋण मिलेगा उससे उनका भुगतान नहीं किया जाएगा। उनका भुगतान शासन से मिलने वाली धनराशि से किया जाएगा। धनराशि के लिए पूर्व महाप्रबंधक शासन से पत्राचार कर चुके हैं।- बृज मोहन त्यागी, महाप्रबंधक, पराग डेयरी निराला नगर 

Edited By: Nitesh Mishra