कानपुर, जेएनएन। रेलवे डिपार्टमेंट जिस तरह से कोरोना वायरस से बचाव वाली वस्तुएं बना रहा है, उससे माना जा रहा है कि लॉकडाउन के बाद रेलवे पूरी तैयारी के साथ ट्रेन संचालन में उतरने वाला है। हर स्तर के कर्मचारी की सुरक्षा को लेकर रेलवे गंभीर है और काफी हद तक तैयारी पूरी कर चुका है। इसके लिए रेलवे पहले से ही कर्मचारियों के लिए जरूरी सुरक्षात्मक वस्तुएं बनाकर स्टॉक कर रहा है ताकि समय आने पर रेलवे का प्रत्येक कर्मचारी सुरक्षात्मक ढंग से अपनी ड्यूटी पूरी कर सके।

डीआरएम ने रेलवे स्टेशनों में देखी व्यवस्था

मंडल रेल प्रबंधक (डीआरएम) अमिताभ कुमार ने प्रयागराज से इटावा तक रेलवे स्टेशनों का निरीक्षण करके जरूरी दिशा निर्देश दिए। लॉकडाउन की अवधि में आवश्यक सेवाओं को जारी रखने के लिए ड्यूटी कर रहे रेलवे कर्मचारियों से कुशलता पूछी। उन्होंने कानपुर सेंट्रल रेलवे स्टेशन पर मौजूद शंट मैन जयकरन से काम करने का तरीका और औजारों को सैनिटाइज करने के बारे में जानकारी ली।

इसके साथ अफसरों से कोविड-19 के संक्रमण से बचाव के लिए सैनिटाइजर, मास्क आदि की उपलब्धता की जानकारी ली। सेंट्रल स्टेशन पर मास्क की जगह रुमाल बांधकर पहुंचे उप स्टेशन अधीक्षक धीरेंद्र सिंह को डांटते हुए पूछा तो उन्होंने जल्दबाजी में भूल आने की बात कही। डीआरएम ने पनकी, जीएमसी के साथ सेंट्रल स्टेशन पर उतरकर उन्होंने स्टेशन निदेशक हिमांशु शेखर उपाध्याय, स्टेशन अधीक्षक आरपीएन त्रिवेदी के साथ परिचालन व्यवस्था, ड्राइवर लॉबी और गार्ड लॉबी का जायजा लिया।

कर्मचारियों के लिए रेलवे तैयार कर रहा सुरक्षा वस्तुएं

कोरोना वायरस से बचाव के लिए सैनिटाइजर, मास्क और कवरऑल आदि जरूरी सामान रेलवे बड़ी मात्रा में तैयार कर रहा है ताकि लॉकडाउन के बाद जब ट्रेन संचालन शुरू करने का आदेश मिले तो सभी कर्मचारी सुरक्षित होकर अपनी ड्यूटी कर सकें। क्योंकि तब रेलवे स्टेशनों पर भीड़ उमड़ेगी और रेलवे कर्मचारियों को भी अधिक खतरा होगा। डीआरएम अमिताभ कुमार ने निरीक्षण के दौरान स्टेशनों पर कर्मचारियों को एहतियात बरतते हुए ड्यूटी करने के निर्देश दिए।

डीआरएम ने बताया कि लॉक डाउन में यात्री ट्रेनों का परिचालन बंद है। आवश्यक वस्तुओं की उपलब्धता सुनिश्चित कराने के लिए मालगाड़ियों और पार्सल कार्गो एक्सप्रेस का परिचालन किया जा रहा है। इन सुविधाओं को सुचारु रखने के लिए कर्मचारियों का सुरक्षित होना जरूरी है। उन्होंने बताया कि रेलवे द्वारा सैनिटाइजर, मास्क, कवरआल, टनल आदि बड़ी मात्रा में तैयार करके स्टॉक किये जा रहे हैं, इनका प्रयोग प्रत्येक रेलवे कर्मचारी कर रहा है। रेलवे कर्मचारियों की सुरक्षा के लिए ही ये वस्तुएं तैयार की जा रही है।

Posted By: Abhishek Agnihotri

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस