कानपुर, जेएनएन। विकास के नाम पर नगर निगम के अभियंता केवल छलावा कर रहे है। नानाकारी में नाले पर स्लैब बनाने के लिए बांस बल्ली लगाई लेकिन हटाई अभी तक नहीं है। इसके चलते नाले की सफाई नहीं हो पा रही है। इस मामले में पार्षद ने नगर आयुक्त से की है। इस मामले में नगर आयुक्त ने अफसरों को फटकार लगाई है। वहीं वर्कआडर जारी होने के बाद भी वार्डों में काम न होने की शिकायत पार्षदों ने नगर आयुक्त से की है। नगर आयुक्त शिव शरणप्पा जीएन ने जोनल अभियंताओं को आदेश दिए है कि वर्कआडर जारी होने के बाद जल्द विकास कराए जाए. ताकि समय पर विकास कार्य हो सके। लापरवाही बरतने वाले ठेकेदारों को चिह्नित करके कार्रवाई की जाए। इसके बाद से अभियंता जुट गए है।

नानाकारी वार्ड की पार्षद निर्मला मिश्रा ने बताया कि उनके क्षेत्र नाले का निर्माण,पुलिया, ह्यूमेन पाइप डालने का काम समेत कई कामों में टेंडर में एक ही टेंडर आ रहे है। कई बार टेंडर होने के बाद भी विकास नहीं कराया जा रहा है। वाटिका पार्क में सुंदरीकरण का वर्क आडर पांच माह से होने के बाद भी काम नहीं शुरू हुआ है। पार्षद ने कहा कि क्षेत्र में नाला बनाने के लिए स्लैब बनाने के लिए बास व बल्ली लगाई थी।  उन्हे हटाया नही गया एवं नाले की स्लैब भी नीचे है जिसके कारण बरसात के दिनों में काफी पानी का जमाव हो जाता है और सफाई नहीं हो पा रही है। यहां शिकायत पार्षद नवीन पंडित, मनोज पांडेय, रीता पासवान, राशिद आरफी, शिब्बू अंसारी,  नीरज बाजपेई, राघवेंद्र मिश्र, लियाकत अली ने बताया कि 14 वें और 15 वें वित्त आयोग से होने वाले विकास कार्यों को कराया जाए ताकि जनता को राहत मिल सके।

Edited By: Shaswat Gupta