जेएनएन, कानपुर : काकादेव में पानी भरा होने के कारण लीकेज नहीं ठीक हो पाया। जल निगम की टीम पंप लगाकर दिनभर पाइप में भरा पानी निकालती रही। इसे क्षेत्र में बिना बरसात के जलभराव हो गया और रास्ता बंद होने से लोगों में नाराजगी है। दिनभर वाहन फंसे रहे। आरटीओ मार्ग से घूमकर काकादेव लोगों को जाना पड़ा। वहीं छह करोड़ लीटर जलापूर्ति दूसरे दिन भी नहीं होने से दस लाख जनता को पीने के पानी के लिए जूझना पड़ा। जल निगम की काकादेव में 26 फीट गहराई में पड़ी मुख्य पाइप लाइन में फिर लीकेज हो गया है। इसके चलते शनिवार से बैराज प्लांट बंद कर दिया गया। शनिवार से खोदाई करके पाइप में भरा पानी निकाला जा रहा है। रविवार को देर शाम तक पंप लगाकर पाइप से पानी निकाला जाता रहा। क्षेत्रीय लोगों ने बताया कि छह साल में रावतपुर से काकादेव के बीच में दस से ज्यादा बार लीकेज हो चुका है। हर बार जनता को जूझना पड़ता है। घटिया पाइप डालने वाले ठेकेदार और अफसरों को जेल भेजा जाना चाहिए। वहीं जलापूर्ति न होने के कारण साकेत नगर, काकादेव,सर्वोदय नगर, बर्रा, कमला टावर, बेकनगंज, फूलबाग समेत कई इलाकों में जलापूति प्रभावित होने के कारण रविवार को छुट्टी के दिन लोग हैंडपंपों और सबमर्सिबल पंपों में लाइन लगाकर पानी भरते रहे। भाजपा विधायक ने बांस डालकर जांची नाला सफाई, कानपुर : भाजपा विधायक सुरेंद्र मैथानी ने डीबीएस कच्ची बस्ती से गुजर रहे नाले में बांस डालकर जांच की। इस दौरान उन्होंने सिल्ट को साफ कराने के आदेश दिए। इसके साथ ही छह लोगों की टीम बनाई गई है, जो नाले की सफाई पर नजर रखेगी। ठेकेदार को आदेश दिए कि नाला सफाई के बाद नाले पर पटरिया ठीक से रख दी जाए। इसमें किसी भी प्रकार की लापरवाही न बरती जाए। विधायक ने रविवार को अर्मापुर पुल कि उखड़ी हुई सड़क को उखड़वाकर फिर ठीक कराने के आदेश दिया। उन्होंने अधिशासी अभियंता सीपी गुप्ता को आदेश दिए कि गुणवत्ता के आधार पर ही उक्त निर्माण होना चाहिए अन्यथा आवश्यक कार्रवाई की जाएगी। बैठक में उठाई व्यापारियों की समस्याएं, कानपुर : उत्तर प्रदेश कांग्रेस उद्योग व्यापार प्रकोष्ठ (मध्य जोन) की वर्चुअल मीटिग में व्यापारियों की समस्याओं को उठाया गया। मीटिग में निर्णय लिया गया कि व्यापारियों की समस्याओं से सरकार को अवगत कराया जाएगा। इसके लिए एक सप्ताह में सभी जिलों से एक साथ ज्ञापन भेजा जाएगा। मीटिग में प्रकोष्ठ के चेयरमैन पवन गुप्ता, प्रदेश उपाध्यक्ष केके गहोई, सिद्धार्थ, समीर श्रीवास्तव, महेश मेघानी, प्रशांत गुप्ता आदि रहे। जासं

Edited By: Jagran