फतेहपुर, जेएनएन। दोस्ती के नाम को फतेहपुर की इस घटना के शर्मसार कर दिया। शराब पीने और मीट खाने के दौरान हुए विवाद में एक दोस्त इतना गुस्से से लाल हो गया कि उसने साथी पर चाकू से हमला कर दिया। इसके बाद उसे गड्ढे में फेंक दिया। फिर मोबाइल लूटकर भाग निकला। स्वजन पांच घंटे बाद बीती रात दो बजे घटनास्थल पहुंचे जहां बेटे को खून से लथपथ हालत में देख पुलिस को सूचना देकर उसे जिला अस्पताल में भर्ती कराया है।

थरियांव थाने के चकरसूलाबाद गांव निवासी 25 वर्षीय रमेश पासवान शुक्रवार रात सब्जी खरीदने बहरामपुर रेलवे नाका गया था। वहां से सब्जी लेकर वह पैदल आ रहा था। रात 9 बजे रास्ते में घासीपुर गांव के समीप उसके चार दोस्त मिल गए। खानपान की खुन्नसन को लेकर हमलावरों ने रमेश के कमर में कुल्हाड़ी व शरीर में चाकू से प्रहार कर दिया और उसे बेहोशी हालत में गड्ढे में फेंककर चले गए। होश आने पर घायल रमेश पासवान ने बताया कि कुछ दिन पहले मीट व शराब खाने को लेकर दोस्तों से झगड़ा हुआ था। उसी खुन्नस में दोस्तों ने उसकी हत्या का प्रयास किया और दोस्त उसका मोबाइल फोन व कुछ नकदी भी लूट ले गए हैं।

नामजद दोस्तों की तलाश में छापेमारी : एसओ नंदलाल ङ्क्षसह ने बताया कि घायल रमेश पासवान की तहरीर मिलने पर उसके दोस्तों बुलेरा पासवान, गुंडा, झुर्री समेत चार लोगों पर मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। लूट का आरोप निराधार है। हमलावरों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जा रही है। मीट व शराब के खानपान में रुपयों के लेन देन को लेकर कुछ दिन पहले घायल का दोस्तों से झगड़ा हुआ था।  

Edited By: Akash Dwivedi