फर्रुखाबाद, जागरण संवाददाता। अवैध संबंध को लेकर युवक ने सोमवार रात में पत्नी की गड़ासा से गला काटकर हत्या कर दी। घटना के बाद उसने सास को मोबाइल फोन पर पत्नी की हत्या करने की जानकारी दी। इसके बाद वह गड़ासा लेकर पुलिस चौकी कादरीगेट पहुंचकर आत्मसमर्पण कर दिया।

जनपद शाहजहांपुर के मदनापुर थाना क्षेत्र के गांव नगला गुलाऊ निवासी जगपाल कठेरिया ने पुत्री किरन की शादी 17 वर्ष पहले जनपद हरदोई के गांव कौसिलिया निवासी खुशीराम कठेरिया से की थी। खुशीराम के तीन बच्चों में निर्मल, चंदन और कोमल हैं। सात वर्ष पहले किरन, पुत्री कोमल को लेकर चली आई थी। किरन ने शहर कोतवाली क्षेत्र के गांव खानपुर नगला निवासी रिश्तेदार सुनील कठेरिया से कोर्ट मैरिज कर ली थी।

इसके बाद से वह सुनील के साथ रहने लगी। रक्षाबंधन से 15 दिन पहले सुनील ने पत्नी किरन और कोमल को कमालगंज थाना क्षेत्र के गांव भुल्लनपुर निवासी अपनी बहन सुनीता बहनोई लाखन कठेरिया के पास भेज दिया था। इसके बाद सुनील सब्जी का व्यापार करने अलीगढ़ चला गया था।

25 सितंबर को सुनील ने किरन को घर बुलाया। सोमवार देर रात एक बजे के करीब सुनील ने गड़ासा से पत्नी कंचन की गर्दन काट दी। इसके बाद उसने सास गुड्डी देवी को फोन कर घटना की जानकारी देकर धमकी दी और वह गड़ासा लेकर पुलिस चौकी कादरीगेट पहुंचा। पुलिस कर्मियों को जब उसने पत्नी की हत्या करने की जानकारी दी तो पुलिस कर्मियों में हलचल मच गई।

पुलिस अधीक्षक अशोक कुमार मीणा, सीओ सिटी प्रदीप कुमार, प्रभारी निरीक्षक विनोद कुमार शुक्ला घटनास्थल पर पहुंचे। हत्यारोपित ने पुलिस को बताया कि पत्नी के अवैध संबंध उसके भांजे से हो गए थे। इस वजह से उसने पत्नी की हत्या कर दी है। पुलिस अधीक्षक ने बताया कि किरन के पिता खुशीराम की तहरीर पर सुनील कठेरिया के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया है।

हत्यारोपित को गिरफ्तार कर उसकी निशानदेही पर आलाकत्ल बरामद कर लिया गया है। डा. सुमित शाक्य ने किरन का पोस्टमार्टम किया। किरन की गर्दन पर धारदार हथियार के तीन कटे के निशान मिले हैं। गर्दन कटने की वजह से किरन की मौत होनी बताई गई है।

सुनील की पहली पत्नी भतीजे के साथ रहने लगी

सुनील कठेरिया का भतीजा राहुल स्वजन के साथ गांव अमेठी जदीद में रहते हैं। सुनील की पहली पत्नी पत्नी रेनू राहुल के साथ जाकर गांव अमेठी में रहने लगी। रेनू के दो बच्चों में शनि और पुत्र तुलसी हैं। शनि को वह अपने साथ ले गई। जब कि 13 वर्षीय तुलसी अपने ताऊ कमलेश के पास अमेठी में रह रही है।

भतीजी को छोड़ने आए युवक को पुलिस ने पकड़ा

मामी किरन की हत्या की सूचना मिलने के बाद मंगलवार सुबह कमालगंज थाना क्षेत्र के गांव भुल्लनपुर निवासी प्रवीन, भतीजी कोमल को लेकर खानपुर नगला पहुंचा। वहां से पुलिस प्रवीन को कोतवाली ले गई। हत्यारोपित सुनील कठेरिया ने पुलिस को बताया कि उसकी पत्नी के अवैध संबंध भांजे प्रवीन से हो गए। उसने कई बार पत्नी को बुलाया, लेकिन उसके भांजे ने नहीं भेजा।

भांजे की वजह से ही उसने घटना को अंजाम दिया है। इस वजह से पुलिस प्रवीन से पूछताछ कर रही है। प्रवीन ने पुलिस को बताया कि उसके दो बच्चे हैं। उसके मामा सुनील ने गलत आरोप लगाया है। प्रवीन के भाई विवेक और कोमल ने भी सुनील द्वारा लगाए गए आरोपों को गलत बताया।

पत्नी को मार दिया, जो करना हो वो कर लो

पुत्री की मौत की खबर पर पिता जगपाल कठेरिया, पत्नी गुड्डी देवी आदि स्वजन के साथ पोस्टमार्टम हाउस पहुंचे। वहां पर गुड्डी देवी ने बताया कि आधी रात को सुनील ने उनके मोबाइल फोन पर काल की। बोला कि उसने किरन की हत्या कर दी है। जो करना हो वो कर लो। इतना कहकर उसने फोन काट दिया। 

Edited By: Nitesh Mishra

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट