कानपुर, जेएनएन। बांदा से आ रही प्राइवेट बस हमीरपुर चुंगी के पास सामने से ट्रॉला ने टक्कर मार दी। हादसे में बस चालक की मौत हो गई। सात सवारियां मामूली रूप से जख्मी हो गईं। वहीं घटना के बाद ट्रॉला छोड़ कर उसका चालक मौके से भाग निकला।

मध्यप्रदेश के जनपद गुना के अरौन निवासी 40 वर्षीय कमलसिंह राजपूत और भूरा प्राइवेट बस में चालक थे । बस गुना से इलाहाबाद के बीच चलती है। सोमवार की देर रात वह बांदा की ओर से बस में सवारियां लेकर महोबा आ रहे थे। रात करीब साढ़े बारह बजे अभी बस हमीरपुर चुंगी के पास ही पहुंची थी कि तभी श्रीनगर की ओर से आ रहे गिट्टी लाद कर आ रहे ट्राला ने टक्कर मार दी। टक्कर होते ही बस में सवार यात्रियों में चीख पुकार मच गई। बस रोड किनारे बनी झोपडिय़ों में जा घुसी। इधर, मौका देख कर ट्राला को वहीं छोड़ कर चालक मौके से भाग निकला।

कुछ दूरी पर गश्त कर रही कोतवाली पुलिस मौके पर पहुंची। घायल दोनों बस चालकों को सदर अस्पताल भेजा। यहां इलाज के दौरान कमल की मौत हो गई। पुलिस ने रात को ही चालक के स्वजन को फोन से घटना की जानकारी दी। बस में मामूली रूप से जख्मी सवारियों का प्रथामिक इलाज करने के बाद उन्हेंं दूसरी बस से गुना के लिए रवाना कर दिया गया। मंगलवार को चालक के भाई राजेश सिंह राजपूत ने महोबा सदर कोतवाली में ट्राला चालक के खिलाफ तहरीर देकर मुकदमा दर्ज करा दिया। कोतवाली प्रभारी अनूप कुमार दुबे ने बताया कि ट्राला को कब्जे में ले लिया गया है। चालक पर मुकदमा दर्ज कर लिया गया है, उसकी तलाश की जा रही है।